आगरा, जागरण संवाददाता। सांसद व भाजपा किसान मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजकुमार चाहर ने कहा है कि कुछ लोग भ्रम फैलाकर भगवान श्रीराम के मंदिर निर्माण की राह में रोड़ा लगाने का प्रयास कर रहे हैं। श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट ने अभी तक जितनी भूमि क्रय की है, वह खुले बाजार की कीमत से बहुत कम मूल्य पर खरीदी है। आम आदमी पार्टी के नेता व राज्यसभा सदस्य संजय सिंह जैसे लोग उत्तर प्रदेश में राजनीति चमकाने के लिए नैतिकता व मर्यादा को तार-तार कर रहे हैं।

सांसद राजकुमार चाहर ने कहा कि कि श्रीराम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट के महामंत्री चंपत राय ने स्पष्टीकरण भी दे दिया है कि राम मंदिर के निर्माण के संबंध में सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के बाद जमीनों के रेट बढ़े हैं। जिस भूखंड को लेकर चर्चा की जा रही है, वह भूखंड रेलवे स्टेशन के पास बहुत प्रमुख स्थान है। ट्रस्ट ने अभी तक जितनी भूमि क्रय की है, वह खुले बाजार की कीमत से बहुत कम मूल्य पर खरीदी है। सभी बैनामा अनुबंध के अनुसार हुए हैं, किसी भी तरह की कोई गड़बड़ी नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने तो वर्ष 2007 में सर्वोच्च न्यायालय में हलफनामा दायर कर कहा था कि राम एक काल्पनिक पुरुष हैं। न्यायालय में 22 वकील खड़े किए थे, जिनका नेतृत्व कपिल सिब्बल कर रहे थे, इन सभी ने सर्वोच्च न्यायालय में फैसले को रोकने का प्रयास किया। सांसद ने कहा कि मुस्लिम-यादव समीकरण की राजनीति करने वाली समाजवादी पार्टी ने भी अपनी सरकार में वर्ष 1990 में कारसेवकों पर गोली चलवाईं।

यह भाजपा को बदनाम करने की कोशिश की जा रही है।

Edited By: Jagran