आगरा, जेएनएन। लखनऊ एक्‍सप्रेस वे पर शनिवार शाम तीन लोग और काल के गाल में समा गए। प्रयागराज हाईकोर्ट के अधिवक्‍ता, उनकी पत्‍नी और ड्राइवर की मौके पर ही मृत्‍यु हाेे गई। दुर्घटना इतनी जबरदस्‍त थी कि एक्‍सयूवी के परखच्‍चे उड़ गए। मृतकों के शवों को कार से बमुश्किल बाहर निकाला जा सका। हादसे की सूचना परिजनों को दे दी गई है।

आगरा-लखनऊ एक्‍सप्रेस पर हादसा शनिवार शाम करीब छह बजे हुआ। लखनऊ से आगरा की ओर आ रही एक्‍सयूवी कार पीछे से ट्रॉला में जा टकराई। एक्‍सयूवी में सवार प्रयागराज हाइकोर्ट के वरिष्‍ठ अधिवक्ता व सिविल लाइन प्रयागराज निवासी 72 वर्षीय योगेश अग्रवाल अपनी पत्नी सुशीला के साथ सवार थे। एक्‍सयूवी को ड्राइवर योगराज त्रिपाठी चला रहा था। अधिवक्‍ता आगरा में किसी रिश्‍तेदार के यहां आ रहे थे। हादसा कठफोरी के पास हुआ, जब अनियंत्रित होकर एक्‍सयूवी आगे चल रहे ट्रॉला से जा टकराई। तीनों की ही मौके पर मौत हो गई। अधिवक्ता योगेश अग्रवाल ड्राइवर योगराज के शव कार के अंदर फंसे हुए थे। अधिवक्ता के पुत्र हर्ष अग्रवाल बिल्डर हैं, उन्‍हें पुलिस ने हादसे की सूचना दे दी है।  

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Prateek Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप