आगरा, जागरण संवाददाता। आगरा में अगर सार्वजनिक ऑटो से सफर कर रहे हैं तो जरा संभलकर बैठिए और अपने सामान की हिफाजत करते रहिए। दरअसल इन दिनों यहां ऑटो गैंग सक्रिय है। एत्माद्दौला इलाके में आटो गैंग ने महिला सवारी के पर्स से चार लाख रुपये के आभूषण निकाल लिए। मुकदमा दर्ज कराने को पीड़ित सात दिन से चौकी और थाने के चक्कर काट रही है।

घटना 11 नवंबर की है। बोदला के वायु विहार की रहने वाली सलमा पत्नी एहसान मलिक अपने छोटे भाई के साथ मायके खंदौली से आ रही थी। दोनों रामबाग से टेड़ी बगिया के लिए आटो में सवार हुए। कुछ दूर बाद आटो में एक महिला व युवक भी बैठ गए। टेड़ी बगिया पर आटो से उतरने के बाद सलमा चालक को किराया देने के लिए पर्स से रुपये निकालने लगी। इसी दौरान चालक आटो लेकर वहां से चला गया।

जिससे सलमा को शक हो गया। उसने पर्स को चेक किया तो उसमें रखे सोने-चांदी के जेवरात गायब थे। सलमा ने बताया कि शातिर सात तोला सोने व 250 ग्राम चांदी के आभूषण निकालकर ले गए। जिनकी कीमत करीब चार लाख रुपये है। पीड़िता ने फोन पर मायके वालों काे इसकी जानकारी दीव्। पति और मायके वाले चौकी पहुंच गए। उन्होंने घटना की तहरीर दी, वहां से थाने भेज दिया। पीड़ित का कहना है कि वह सात दिन से चौकी व थाने के चक्कर काट रहे हैं। पुलिस रिपोर्ट दर्ज नहीं कर रही है।

चार दिन पहले भी आटो गैंग ने महिला सवारी को था लूटा

आटो गैंग ने चार दिन पहले भी एक महिला सवारी के साथ वारदात की थी। धौलपुर की रहने वाली राधा पत्नी पिंकू गुरुवार की दोपहर रामबाग से बिजलीघर के लिए आटो में बैठी थी। जिसके बाद दो शातिर भी उसमें सवार हो गए।राधा के अनुसार रास्ते में सवारी बनकर बैठे शातिरों ने उसे रूमाल सुंघा दिया। जिससे वह बेहोश हो गई। करीब एक घंटे बाद होश आया तो मंगल सूत्र, कुंडल, अंगूठी व पर्स में रखे तीन हजार रुपये गायब थे। जेवरात की कीमत एक लाख रुपये से ज्यादा थी।

Edited By: Prateek Gupta