आगरा, जागरण संवाददाता। चार वर्ष पहले छात्रा को सीनियर ने रैगिंग से बचाने के नाम पर जाल में फंसा लिया। धीरे-धीरे नजदीकी बढ़ाई और बाद में उसने छात्रा को शादी का झांसा देकर दुष्कर्म किया। इस दौरान अश्लील फोटो खींचकर उसने छात्रा को ब्लैकमेल किया और इंटरनेट मीडिया पर उसे बदनाम भी कर दिया। छत्ता पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

छत्ता थाने में पीड़ित छात्रा ने मुकदमा दर्ज कराया है। उसने पुलिस को बताया कि वर्ष 2017 में वह कमला नगर थाना क्षेत्र के एक कालेज में पढ़ती थी। वहां हरीपर्वत क्षेत्र के नगला छिद्दा निवासी मनीष दिवाकर ने उसे जाल में फंसाया था। कॉलेज के बाद भी वह उसके संपर्क में रही। आरोपित ने उसे शादी का झांसा देकर दुष्कर्म किया। बाद में अश्लील फोटो वायरल करने की धमकी देकर डराने लगा। दो लाख रुपये की मांग करने लगा। उसने रुपये देने से साफ इन्कार कर दिया। आरोपित ने उसके नाम से फेसबुक पर एक आईडी बनाई। उस पर उसके अश्लील फोटो अपलोड कर दिए। उसके पड़ोसियों और पहचान वालों को फ्रेंड रिक्वेस्ट भेज दी। तब उसे इसकी जानकारी हुई। आरोपित की हरकत के कारण वह अपने घर के आस-पास और रिश्तेदारी में शर्मिंदा हुई। पुलिस ने मुकदमा लिखने के बाद शुक्रवार को आरोपित को दबोच लिया। इंस्पेक्टर छत्ता शेर सिंह ने बताया कि आरोपित का मोबाइल जब्त कर लिया गया है। आरोपित के खिलाफ ब्लैकमेलिंग, दुराचार, आइटी एक्ट की धारा में मुकदमा दर्ज किया गया है। कोर्ट के आदेश पर उसे जेल भेज दिया गया है।

Edited By: Nirlosh Kumar