आगरा, जागरण संवाददाता। कोरोना की तीसरी लहर में संक्रमण तेजी से फैला, उसी तेजी से मरीज भी ठीक हो रहे हैं। कोरोना संक्रमित मरीजों में मामूली लक्षण मिल रहे हैं, इसके चलते अधिकांश मरीजों का होम आइसोलेशन में घर पर ही इलाज ​हुआ। 74 फीसद मरीज ठीक हो चुके हैं, 50 मरीजों को ही भर्ती करने की जरूरत हुई। एक मरीज की मौत हुई है।

एक जनवरी के बाद कोरोना के केस लगातार बढ़ते गए। एक दिन में 800 से अधिक कोरोना के नए केस मिले। अब कोरोना के केसों में कमी आने लगी है लेकिन अभी भी 300 से 400 के बीच में नए केस मिल रहे हैं। सीएमओ डा. अरुण श्रीवास्तव ने बताया कि एक से 25 जनवरी तक कोरोना के 8670 केस मिले और 6498 कोरोना संक्रमित ठीक हो गए। अधिकांश मरीजों का इलाज घर पर ही हो गया। उन्हें अस्पताल में भर्ती करने की जरूरत नहीं हुई। 50 मरीज ही अस्पताल में भर्ती हुए। इसमें से भी 41 मरीज ठीक हो चुके हैं और एक मरीज की मौत हुई है। कोरोना संक्रमित आठ मरीज अभी भर्ती हैं।

ठंड लगकर आ रहा बुखार, कमजोरी से परेशान

कोरोना की तीसरी लहर में अधिकांश मरीजों को ठंड लगकर बुखार आ रहा है। दो तीन दिन तक छींक आ रही हैं। बुखार भी तीन दिन में ठीक हो रहा है। इसके बाद भूख नहीं लग रही है और शरीर में टूटन हो रही है। कुछ मरीजों को कमजोरी बहुत आ रही है। कोरोना संक्रमित मरीज पैरासीटामोल सहित सामान्य दवाओं से ठीक हो रहे हैं। मरीजों को अधिक से अधिक पानी का सेवन करने की सलाह दी जा रही है साथ ही भाप लेने के लिए कहा जा रहा है। 

Edited By: Tanu Gupta