आगरा, जागरण संवाददाता। काउंसिलिंग से बाहर निकलने के बाद शौहर ने बीवी को तीन तलाक दे दिया। समाज की पंचायत में मामला नहीं सुलझने पर पीडि़ता ने मंगलवार को पुलिस की शरण ली।

सदर क्षेत्र में देवरी रोड निवासी युवती का निकाह तीन साल पहले कोतवाली क्षेत्र के बाजार निवासी युवक से हुआ था। दंपती के एक पुत्र भी है। युवती के अनुसार शौहर दहेज में मिले सामान से संतुष्ट नहीं था। अतिरिक्त दहेज की मांग को लेकर परेशान करता था। दो जुलाई को शौहर ने गला दबाकर जान से मारने की कोशिश की। शोर मचाने पर पहुंचे आसपास के लोगों ने उसे बचाया। जानकारी होने पर पहुंचे परिजन अगले दिन उसे घर लेकर आ गए।

समाज के प्रतिष्ठित लोगों के माध्यम से उसने अपना घर बचाने की कोशिश की। पुलिस परिवार परामर्श केंद्र में प्रार्थना पत्र दिया। काउंसलर ने एक सितंबर को शौहर को वहां बुलाया था। युवती का आरोप है कि काउंसिलिंग के बाद बाहर आकर शौहर उसे तीन बार तलाक देकर चला गया। छानबीन करने पर पता चला कि शौहर ने एक निकाह पहले से किया हुआ था। मंगलवार को हिंदूवादी संगठन के पदाधिकारियों के साथ सदर थाने पहुंची पीडि़ता ने शौहर के खिलाफ मुकदमे को तहरीर दी।  

Posted By: Prateek Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप