आगरा, जेएनएन। प्रदेश की राज्यपाल आनंदी बेन पटेल ने गुरुवार को चंद्रोदय मंदिर में आयोजित चरणपादुकोत्सव में शामिल होकर धार्मिक आयोजन में सहभागिता की। राज्यपाल ने राधादामोदर मंदिर में दर्शन व पूजन के साथ पादुका पूजन किया। ठा. बांकेबिहारी के दर्शन कर आशीर्वाद लिया तो अक्षयपात्र स्थित वृंदावनचंद्र मंदिर में आरती के दर्शन भी किए। इस मौके पर राज्यपाल ने अक्षयपात्र में संचालित आधुनिक रसोई का अवलोकन कर स्कूली बच्चों को मिड डे मील भी परोसा।

राज्यपाल आनंदीबेन पटेल का हेलीकॉप्टर गुरुवार की सुबह अपने तय समय 10.50 पर पवनहंस हेलीपैड पर उतरा। यहां से राज्यपाल का काफिला चैतन्य विहार ओवरब्रिज के रास्ते परिक्रमा मार्ग होते हुए राधादामोदर मंदिर पहुंचा। राधादामोदर मंदिर में अक्षयपात्र फाउंडेशन के चेयरमैन मधु पंडित दास ने पुष्प देकर राज्यपाल का स्वागत किया। आचार्य कनिका गोस्वामी के सान्निध्य में राज्यपाल पटेल ने राधादामोदर मंदिर में दर्शन कर पूजा-अर्चना की।

इसके बाद मंदिर की परिक्रमा कर राज्यपाल चैतन्य महाप्रभु के अनुयायी रूप गोस्वामी की समाधि पहुंचीं। यहां समाधि के दर्शन करने के साथ स्थापित चैतन्य महाप्रभु की पादुका आरती के दर्शन व पूजन किया। राज्यपाल ने श्रील प्रभुपाद की भजन कुटी में दर्शन करने के बाद ठा. बांकेबिहारी मंदिर का रुख कर लिया। बांकेबिहारी मंदिर में दर्शन व पूजन के बाद राज्यपाल का काफिला अक्षयपात्र पहुंचा।

अक्षयपात्र परिसर में ठा. वृंदावनचंद्र के आरती दर्शन व पूजन करने के बाद राज्यपाल ने चंद्रोदय मंदिर के मॉडल तथा आधुनिक रसोई का निरीक्षण किया। रसोई का निरीक्षण करने के बाद राज्यपाल ने स्कूली बच्चों को मिड डे मील बांटा तथा मिड डे मील पहुंचाने वाले कर्मचारियों का हालचाल जाने के साथ फोटो शूट भी करवाया। दोपहर को प्रसाद लेने के साथ राज्यपाल का काफिला पवनहंस हेलीपैड के लिए रवाना हुआ। जहां से हेलीकॉप्टर ने लखनऊ के लिए उड़ान भर ली।

Posted By: Prateek Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस