आगरा(जेएनएन): भारतीय किसान यूनियन भानू गुट के राष्ट्रीय अध्यक्ष भानु प्रताप ¨सह ने भाजपा सरकार पर बरसते हुए कहा कि यह सरकार किसान विरोधी है, लोकसभा चुनाव में इसका खामियाजा उसे भुगतना पड़ेगा। जब तक देश और प्रदेश की सरकारें किसानों के हित में काम नहीं करेंगी, तब तक संघर्ष जारी रहेगा और आने वाले समय में निर्णायक लड़ाई होगी। भाजपा के लोग 50 साल तक सत्ता में टिके रहने का सपना देख रहे हैं, लेकिन उन्हें अगले पांच साल भी नहीं मिलेंगे।

एटा के प्रेम गंगा गेस्ट हाउस में आयोजित किसान पंचायत को संबोधित करते हुए भाकियू अध्यक्ष ने कहा कि मोदी सरकार ने नोटबंदी लागू करके इस देश की अर्थव्यवस्था को चौपट कर दिया और इसका सीधा असर किसानों पर भी पड़ा। किसानों को उनकी फसल का वाजिब मूल्य नहीं मिल पा रहा, समर्थन मूल्य घोषित करने की बातें महज एक छलावा हैं। किसान धोखे में आने वाला नहीं। सरकार ने जीएसटी लागू की, इसके कारण भी किसान की जेबों पर असर पड़ा। उन्होंने कहा कि भाजपा 50 साल तक सत्ता में रहने का सपना देख रही है, लेकिन 2019 में भी इसकी वापसी नहीं हो पाएगी।

इसके अलावा भाकियू नेता राहुल गुप्ता एडवोकेट ने कहा कि भारतीय किसान यूनियन ने हमेशा किसानों की आवाज बुलंद की है और अब तक कई निर्णायक जंग लड़ीं। हमारी लड़ाई सरकार से है, उन्होंने कहा कि सवर्णों के ऊपर केंद्र सरकार ने कुठाराघात किया है, इसका जवाब भी उसे लोकसभा चुनाव में देना होगा। सभा को किसान यूनियन के कई नेताओं ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर प्रवीन चौहान, चंद्रशेखर, सतेंद्र ¨सह यादव, राजेश चौरसिया, डा. ओमेंद्र, लोकेंद्र ¨सह, अनुज प्रताप, मुकीदुल रहमान, सौरभ चौहान, जयप्रकाश, हामिद अली, अमर राजपूत, बसंत पतझड़, आलोक गुप्ता, दिनेश गुप्ता, अवनीश गुप्ता, सुरेश गुप्ता, संजय गुप्ता, अमित गुप्ता आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran