आगरा, जागरण संवाददाता। आगरा विकास प्राधिकरण (एडीए) ने ताजनगरी फेज-दो स्थित जोनल पार्क के पास आगरा चौपाटी के निर्माण का कार्य तेज कर दिया है। यह पांच करोड़ रुपये से बन रहा है। इसे जयपुर, राजस्थान के मसाला चौक की तर्ज पर विकसित किया जा रहा है। चौपाटी में 30 रेस्टोरेंट होंगे। इसमें क्या व्यंजन होने चाहिए, इसके लिए एडीए ने दस दिनों में जनता से सुझाव मांगे हैं। चौपाटी में पार्किंग की अलग से व्यवस्था होगी।

एडीए उपाध्यक्ष डा. राजेंद्र पैंसिया ने बुधवार को चौपाटी के निर्माण की तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने चौपाटी का तेजी से निर्माण कराने के आदेश दिए। पार्क के पास लोगों के बैठने की व्यवस्था की जाएगी। साथ ही साउंड सिस्टम भी लगेगा। उपाध्यक्ष की मौजूदगी में चौपाटी का प्रेजेंटेशन भी हुआ। एडीए उपाध्यक्ष ने बताया कि चौपाटी में नामचीन प्रतिष्ठानों के स्टाल होंगे। इसी आधार पर जनता से सुझाव मांगे गए हैं। किस तरीके के व्यंजन होने चाहिए। यह सुझाव मिलने के बाद इसकी सूची तैयार होगी। आगरा महायोजना-2031 : आज से स्वीकार की जाएंगी आपत्तियां

आगरा, जागरण संवाददाता। आगरा महायोजना-2031 को जल्द लागू करने की तैयारी चल रही है। आगरा विकास प्राधिकरण (एडीए) बोर्ड से महायोजना को मंजूरी मिल चुकी है। गुरुवार सुबह 11 से तीसरे पहर चार बजे तक दावे एवं आपत्तियां स्वीकार की जाएंगी। इसकी अंतिम तारीख 19 फरवरी है। कोई भी व्यक्ति महायोजना को लेकर सुझाव या फिर दावे एवं आपत्तियां नियोजना अनुभाग एडीए, नगर निगम प्रथम तल, कलक्ट्रेट, कमिश्नरी, तहसील सदर कार्यालय में दर्ज करा सकता है। नगर नियोजक, एडीए प्रभात कुमार ने बताया कि 19 फरवरी के बाद दावे एवं आपत्तियों का निस्तारण होगा। इसके लिए मंडलायुक्त अमित गुप्ता की अध्यक्षता में बैठक होगी। 14 जोन में बांटा गया शहर : आगरा महायोजना-2031 को 14 जोन में बांटा गया है जबकि महायोजना-2021 में शहर सात जोन में बंटा था। नई महायोजना को दो से तीन माह में लागू किया जाएगा। इसमें इनर रिग रोड के आसपास के क्षेत्र, ग्रेटर आगरा, शास्त्रीपुरम के आसपास के क्षेत्र, कुबेरपुर के आसपास के क्षेत्र को शामिल किया गया है।

Edited By: Jagran