आगरा, जागरण संवाददाता। इंजीनियर के साथ ऑनलाइन शॉपिग में धोखाधड़ी हो गई। महंगे स्मार्ट फोन की जगह पार्सल में साधारण की-पैड वाला मोबाइल निकला। पीड़ित अब ऑनलाइन कंपनी कार्यालय के चक्कर काट रहा है।

लोहामंडी के नया बांस निवासी अक्षत एक कंपनी में इंजीनियर हैं। उन्होंने अक्टूबर के पहले सप्ताह में ऑनलाइन शॉपिग द्वारा 16 हजार रुपये कीमत का नोकिया स्मार्ट फोन खरीदा था। इसका ऑनलाइन भुगतान कर दिया। चार दिन बाद बॉय डिलीवरी पार्सल लेकर आया। घर पर मौजूद परिवार की युवती से कागज पर हस्ताक्षर कराके पार्सल दे गया। परिवार के लोगों ने उसे खोला तो हैरान रह गए, उसमें स्मार्ट की जगह 1200 रुपये वाला साधारण मोबाइल था।

परिवार ने पार्सल रिटर्न करने की रिक्वेस्ट ऑनलाइन कंपनी को भेजी। वहां से दो दिन बाद युवक आया और स्मार्ट फोन देने की कहा। उसने बताया कि कागज पर पार्सल में स्मार्ट फोन प्राप्त होने के हस्ताक्षर हैं। उधर, शॉपिग कंपनी भी स्मार्ट फोन ही वापस लेने की बात कर रही है। इसे लेकर इंजीनियर और उनके परिजन परेशान। वह कंपनी के सिकंदरा आवास विकास कॉलोनी स्थित गोदाम के चक्कर काट रहे हैं। सुनवाई नहीं होने पर वह मामले में अब पुलिस से शिकायत करने की तैयारी कर रहे हैं।

कहीं लखनऊ में पकड़े गिरोह से तो नहीं जुड़े तार

आगरा में भी लखनऊ की तरह खेल तो नहीं हो रहा है। लखनऊ में पुलिस ने ऑनलाइन शॉपिग वेबसाइट की पैकिंग से माल निकालकर बेचने वाले शातिरों के गिरोह का पर्दाफाश करते हुए दो लोगों को गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपित रोहित सोनी एवं राहुल इंजीनियर हैं। वह कंपनी की पैकिंग से माल निकालकर उसे बेच देते थे। उसकी जगह पार्सल में नकली एवं सस्ता माल रखकर भेज देते थे। इससे गिरोह के तार ताजनगरी से भी जुड़े होने की आशंका है। 

Posted By: Tanu Gupta

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप