आगरा, जागरण संवाददाता। रेलवे यात्रियों की सुविधा के लिए ई-कैटरिंग की सुविधा शुरू करने जा रहा है। अब ट्रेनों में तो यात्रियों को खाना मिल सकेगा, लेकिन कैंट रेलवे स्टेशन पर अभी यात्रियों को खाने के लिए फूड प्लाजा के खुलने का इंतजार करना होगा। यहां पर 17 माह से फूड प्लाजा बंद पड़ा है। ऐसे में ट्रेनों के लेट होने पर यात्रियों को खाने के लिए परेशान होना पड़ता है।

आइआरसीटीसी ने आगरा कैंट रेलवे स्टेशन पर यात्रियों की सुविधा के लिए वर्ष 2018 में मुंबई की कंपनी को नौ साल के लिए फूड प्लाजा का ठेका दिया था। कंपनी ने 17 माह फूड प्लाजा का संचालन किया। यहां पर यात्रियों को अच्छा खाना मिल रहा था। मगर, कंपनी ने अगस्त 2019 में अचानक फूड प्लाजा बंद कर दिया। प्लाजा बंद होने से यात्रियों को परेशानी होने लगी। आइआरसीटीसी ने दोबारा टेंडर निकाला। दिल्ली की कंपनी को टेंडर मिल गया। मगर, फूड प्लाजा बंद हुए 17 माह बीत गए हैं, लेकिन अभी तक फूड प्लाजा की शुरुआत नहीं हाे सकी। बीच में कोरोना संक्रमण के चलते लाकडाउन होने के कारण प्लाजा शुरू होने में देरी की बात कही जा रही थी। मगर, अब यात्री ट्रेनों की संख्या बढ़ गई है। इसके साथ स्टेशन पर यात्रियों की संख्या बढ़ गई है। सर्दी में ट्रेनें लेट होने के चलते स्टेशन पर यात्रियों को घंटों इंतजार करना पड़ रहा है। ऐसे में स्टेशन पर फूड प्लाजा न होने के कारण यात्रियों को परेशानी हो रही है। उन्हें खाने के लिए इधर-उधर भटकना पड़ रहा है। आगरा रेल मंडल के पीआरओ एसके श्रीवास्तव का कहना है कि आइआरसीटीसी ने टेंडर उठाया है। कोरोना संक्रमण के चलते प्लाजा खुलने में थोड़ी देरी हो रही है।

 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप