आगरा, जागरण संवाददाता। शादी की पहली वर्षगांठ से पहले पति और ससुराल वालों ने विवाहिता को इतना पीटा कि उसे अस्पलात में भर्ती होना पड़ा। वजह सिर्फ इतनी थी कि परिवार की आर्थिक स्थिति को देखते हुए पत्नी ने 50 हजार रुपये लाने में असमर्थता जता दी थी। पति और ससुराल वालों की बर्बरता की शिकार विवाहिता दो दिन अस्पताल में भर्ती रही। विवाहिता के भाई की तहरीर पर जगदीशपुरा पुलिस ने पति व ससुराल वालों के खिलाफ घरेलू हिंसा और दहेज उत्पीड़न के आरोप में प्राथमिकी लिखी है।

दहेज की कर रहे हैं मांग

लोहामंडी के जटपुरा की रहने वाली शबाना की 26 दिसंबर 2021 में आमिर से हुई थी। उसकी ससुराल जगदीशपुरा में गली नंबर एक में है।शबाना ने अपनी सोने की चेन और टाप्स बेचकर पति के लिए दहेज में बाइक जुटाई थी। विवाहिता के भाई रानू ने बताया कि माता-पिता दोनों की मृत्यु हो चुकी है। वह खुद भी मजदूरी करते हैं। शादी के बाद से ही पति और ससुराल वाले बहन को परेशान करने लगे। उससे आए दिन दस तो कभी पांच हजार रुपये मंगाने लगे।शुरूआत में उन्होंने पति और ससुराल वालों की मांग जैसे-तैसे पूरी कर दी।

ये भी पढ़ें...

रोमांच के शौकीनों के लिए उत्‍तराखंड में नया ठिकाना, 15 दिसंबर से होगी शुरुआत, यहां लें पूरी जानकारी

चार दिसम्बर को ससुरालवालों ने लगाई पिटाई

ससुराल वाले अब 50 हजार रुपये की मांग कर रहे थे। बहन को परिवार के आर्थिक हालात पता थे। उसने इतनी बडी रकम देने में असमर्थता जताई। जिस पर चार दिसंबर काे पति आमिर और ससुराल वालों ने शबाना को बुरी तरह से पीटा। उस पर सरिया से प्रहार कर दिया। जिससे उसका पूरा चेहरा सूज रहा है।एक आंख नीली पड़ चुकी है। शरीर पर भी चोटे हैं। घर वालों ने उसे अस्पताल में भर्ती कराया। मामले की जानकारी होने पर सशक्त सेना की शबाना खंडेलवाल पीड़िता के घर पहुंची। वह परिवार के लोगों को लेकर थाने पहुंची।

प्रभारी निरीक्षक जगदीशपुरा देवेंद्र शंकर पांडेय ने बताया कि पति और ससुराल वालों के विरूद्ध प्राथमिकी लिखी गई है। 

Edited By: Abhishek Saxena

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट