आगरा, जागरण संवाददाता। थाना मंटोला के अंतर्गत शुक्रवार आधी रात करीब ढाई- तीन बजे जामा मस्जिद मार्केट में भीषण आग लग गई। एक दर्जन दुकानें जलकर खाक हो गईं। आग के तांडव से मार्केट में दहशत फैल गई और अफरातफरी मच गई। जैसे ही दुकानदारों को सूचना मिली लोग बदहवास होकर मौके पर पहुंच गए। दमकल की गाडि़यों को बुलाया। दमकल की दस गाडि़यां सुबह पांच बजे तक आग को काबू कर सकीं। आग के कारणों को अब तक पता नहीं चल सका है।   

रमजान का पवित्र माह इबादत का माह है। रात्रि भर मुस्लिम बहुल इलाके गुलजार रहती हैं। सहरी की तैयारी चलती है। जामा मस्जिद में लोग तरावीह पढ़ने पहुंचते हैं। शुक्रवार आधी रात मस्जिद से लोग इबादत करके निकल रहे थे तभी कुछ लोगों ने जामा मस्जिद मार्केट की कुछ दुकानों से धुंआ उठते देखा। लोग जब तक कुछ समझ पाते आग की लपटें उठने लगीं। एक से एक दर्जन तक दुकानों में आग की विकरालता पहुंच गई। विस्‍फोट की आवाज आने लगी। लोगों ने तुरंत चिम्‍मन चौराहा पर तैनात पुलिसकर्मियों को सूचित किया और दमकल की गाडि़यां बुलाईं। आग की सूचना दुकानदारों तक पहुंची तो वो बदहवास होकर दौड़े चले अाए। दमकलकर्मी आग पर काबू पाने का प्रयास कर रहे थे और उधर दुकानदार अपने जीवन की जमापूंजी को स्‍वाहा होते देख बदहवास हो रहे थे। कई दुकानदार आग में कूदकर दुकान में रखा सामान निकालने का प्रयास करने लगे तो आसपास के लोगों ने उन्‍हें रोका। सुबह पांच बजे तक आग पर काबू तो पा लिया गया। जिस मार्केट में रोशनी की जगमग रहती थी आज वहां सिर्फ खाक हुआ सामान पड़ा था। आग की चपेट में जूते, स्‍टेशनरी, चाय, मिटटी के बर्तन और मार्बल की दुकानें आईं। गनीमत रहीं कि दमकल की गाडि़यों ने आग की लपटों को बढ़ने नहीं दिया वरना मार्केट के पीछे की ओर कपड़ा मार्केट है। यदि आग बढ़ती तो स्थिति और अधिक भयावह हो सकती थी। 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Tanu Gupta