आगरा, जागरण संवाददाता। गद्दे की फोम का काम करने वाले व्यापारी के कर्मचारी के लाखों रुपये हड़प कर लिए। उसने व्यापारियों से भुगतान लेने को रखीं पर्चियां दुकान से चोरी कर लीं। उनसे रकम वसूल ली, मालिक को इसकी भनक नहीं लगने दी।व्यापारियों से तकादा करने पर कर्मचारी की हेराफेरी का पता चला। मामले में एसएसपी से शिकायत पर जांच कराई गई। कर्मचारी द्वारा की गई धोखाधड़ी के आरोपों की पुष्टि होने पर मंटोला थाने में प्राथमिकी लिखी गई है।

ये है धाेखाधड़ी का पूरा मामला

नाई की मंडी निवासी सुगम शिवहरे का गद्दे के फोम का काम है। उनकी कलक्ट्रेट के पीछे सदर भट्टी मार्ग पर दुकान है।व्यापारी के अनुसार दुकान पर काम करने वाले कर्मचारी आदित्य ने गाेदाम और काउंटर की दूसरी चाबी बनवा ली। काउंटर के दराज में रखी व्यापारियों से लेनदेन की पर्चियां चोरी कर लीं। जिसके बाद फर्जी रसीदें बनाईं, व्यापारियों को रसीद काट उनसे आठ से दस लाख रुपये वसूल लिए।

तकादा करने पर खुला मामला

सुगम शिवहरे के अनुसार व्यापारियों से तकादा करने पर उन्हें कर्मचारी द्वारा की गई वसूली का पता चला। मामले की शिकायत पुलिस में करने पर उसने गंभीरता से नहीं लिया। उन पर कर्मचारी से राजीनामा करने का दबाव बनाया। जिस पर उन्होंने अपने अधिवक्ता नितिन वर्मा के माध्यम से पुलिस महानिदेशक के यहां शिकायत की। जिसके बाद पुलिस महानिरीक्षक आगरा रेंज ने एसपी सिटी को जांच सौंपी। उन्होंने जांच के बाद प्राथमिकी लिखने की संस्तुति की। मामले में मंटोला थाने में धोखाधड़ी, अमानत में खयानत, कूटरचित दस्तावेज तैयार करने समेत अन्य धाराओं में प्राथमिकी लिखी गई।

 

Edited By: Tanu Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट