आगरा, जागरण संवाददाता। 60 से अधिक उम्र के बुजुर्गो को उनके घर पर स्वास्थ्य विभाग की टीम वैक्सीन लगाएगी। वहीं, एंटीजन टेस्ट में कोरोना की रिपोर्ट पाजिटिव आने पर कोरोना के लक्षण होने पर दवाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। सोमवार को सर्किट हाउस में अमित मोहन प्रसाद, अपर मुख्य सचिव चिकित्सा स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण ने मंडल के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की।

उन्होंने कहा कि 60 से अधिक उम्र के 28 फीसद बुजुर्गों को वैक्सीन नहीं लगी है। वे वैक्सीन केंद्र तक आने में असमर्थ हैं। इन्हें घर पर जाकर वैक्सीन लगाई जाए। वहीं, कोरोना के सक्रिय केस तेजी से बढ़ रहे हैं। दवाएं नहीं मिल पा रही हैं। इसके लिए जिन केंद्रों पर एंटीजन टेस्ट हो रहे हैं वहां दवाओं की किट उपलब्ध कराई जाए। जिससे रिपोर्ट पाजिटिव आने पर दवा भी उपलब्ध करा दी जाए। जांच केंद्रों पर एक मोबाइल नंबर भी चस्पा दिया जाए, जो भी जांच कराने आता है उससे उस नंबर पर मिस्क काल देने के लिए कहा जाए। जिससे पाजिटिव रिपोर्ट आने के बाद नंबर न मिलने और गलत नंबर होने की आशंका नहीं रहेगी। इसके साथ ही कोविड हास्पिटल में कोरोना के गंभीर लक्षणों के साथ भर्ती हो रहे मरीज और जिन मरीजों की मौत हो उनके सैंपल जीनोम सिक्वेंसिग के लिए भेजे जाएं। समीक्षा बैठक में डीएम प्रभु एन सिंह, अपर निदेशक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डा. अजय अग्रवाल, सीएमओ डा. अरुण श्रीवास्तव, एसएन के प्राचार्य डा. प्रशांत गुप्ता आदि मौजूद रहे। बुजुर्गों को घर पर वैक्सीन लगवाने के लिए वाटस एप नंबर किया गया जारी

सीएमओ डा. अरुण श्रीवास्तव ने बताया कि 60 से अधिक उम्र के बुजुर्ग के बारे में वाटस एप नंबर 8791393336 पर जानकारी दे सकते हैं। स्वास्थ्य विभाग की टीम संपर्क कर घर जाकर वैक्सीन लगाएगी।

Edited By: Jagran