आगरा, जागरण संवाददाता। शाहगंज क्षेत्र का एक युवक प्रेम संबंधाें में दिल्ली से युवती को अपने घर ले आया। शुक्रवार को युवती की मां अपने पड़ोस में रहने वाले दंपती के साथ यहां आई। आरोप है कि वे शाहगंज से अपनी बेटी और उसके प्रेमी को कार से ले गए। अपहरण की शिकायत पर पुलिस पीछे लग गई। 24 घंटे में तीनों आरोपितों को पकड़कर युवक को बरामद कर लिया गया।

शाहगंज निवासी मोहर सिंह दिल्ली में जूते की फैक्ट्री में काम करता था। एक साल पहले दिल्ली में उसकी दोस्ती पड़ोस में रहने वाली एक युवती से हो गई। दोनों में प्रेम संबंध हो गए। 27 जून को मोहर सिंह युवती को अपने साथ आगरा ले आया। दोनों शादी करना चाहते थे। मोहर सिंह की बहन रामनगर पुलिया में रहती हैं। मोहर सिंह युवती के साथ अपनी बहन के घर रहने लगा। उधर, युवती के स्वजन बेटी की तलाश में लगे थे।

उन्हें बेटी के आगरा में होने की जानकारी मिली। शुक्रवार शाम को वह मोहर सिंह की बहन के घर आ गए। आरोप है कि युवती की मां अपने पड़ोसी मंगल सिंह और उसकी पत्नी के साथ आई थीं। उन्होंने बेटी और उसके प्रेमी को पकड़ लिया। इसके बाद अपनी गाड़ी में डाल लिया। उन्हें जबरन कार में ले जाता देखकर लोगों की भीड़ जुट गई।

आरोप है कि तीनों मोहर सिंह की हत्या की धमकी दे रहे थे। इसके बाद गाड़ी को भगा ले गए। जानकारी होने पर पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने कार का पीछा शुरू कर दिया। आरोपित हाईवे पर मथुरा होते हुए दिल्ली की तरफ गए थे। पुलिस ने 24 घंटे में आरोपितों को दिल्ली के मंगोलपुरी थाना क्षेत्र में पकड़ लिया।

इंस्पेक्टर शाहगंज जसवीर सिंह सिरोही ने बताया कि मोहर सिंह की मां मीना देवी की तहरीर पर अपहरण और जान से मारने की धमकी में मुकदमा दर्ज किया गया। आरोपित मंगल, ममता और लक्ष्मी को गिरफ्तार कर लिया गया।पुलिस के पहुंचने से पहले ही आरोपितों ने बेटी को एक रिश्तेदार के घर छोड़ दिया था। मोहर सिंह को ही अपने साथ लेकर जा रहे थे। आशंका है कि मोहर सिंह के साथ वो वारदात करने वाले थे। अब युवती को बरामद करने का प्रयास किया जा रहा है। 

Edited By: Tanu Gupta