आगरा(जागरण संवाददाता): तन के साथ मन को भी सराबोर करता मानसून बस अब कुछ ही कदम दूर है। फिर होगी बरखा की झमाझम और मौसम हो जाएगा सुहाना। सुहाने मौसम का आनंद लेने के लिए फैशन इंडस्ट्री हो गई है अभी से तैयार। मानसून स्पेशल डिजाइन, फेब्रिक और कलर्स के साथ मानसून फैशन अपडेट हो चुका है। फैशन डिजायनर हिमानी शरन के अनुसार मानसून में कॉटन को कुछ समय के लिए अलविदा कह देना चाहिए। हल्की सी बारिश में कॉटन अधिक भीग जाता है और देर में सूख पाता है।

बारिश के सीजन में सबसे अच्छे फेब्रिक होते हैं जॉर्जेट, क्रेप और सेमी क्रेप। चाहे जितना बारिश में तरबतर हो जाएं लेकिन ये फेब्रिक जल्दी सूख जाते हैं।

बोल्ड फ्लोरल प्रिंट रहेंगे बारिश में फिट:

बरखा ऋतु यानि हर ओर हरियाली और फूलों की खुशहाली। मौसम के अनुरूप चलते हुए मानसून में बोल्ड और फ्लोरल प्रिंट अधिक चलन में रहेंगे। मेल फैशन हो या फिमेल, हर किसी को ये प्रिंट बारिश के दिनों में खूब फबता है।

इंद्रधनुषी मौसम में पसंद आते हैं इंद्रधनुषी रंग:

मानसून में प्रकृति का नये रंगों से श्रंगार होता है। ऐसे में फैशन भी रंगों से सराबोर होकर होना चाहिए। मानसून फैशन में रंगों को अधिक तवज्जो दी जाती है। हरियाली को दर्शाते हरे रंग के शेड, यलो, रेड के साथ मल्टी कलर या मिक्सिंग कलर को अधिक अपनाया जाता है। सावन के त्योहारों की पसंद हैं लहरिया:

आने वाले दिनों में सावन के त्योहार रक्षाबंधन, हरियाली तीज को देखते हुए अभी से लहरिया और बंधेज प्रिंट की ड्रेसेज तैयार कर ली गई हैं। सावन में इन प्रिंट्स को हर बार पसंद किया जाता है।

जॉर्जेट फेब्रिक में ये प्रिंट आकर्षक भी दिखते हैं। कफ्तान देंगे मानसून फैशन को रफ्तार:

हिमानी के अनुसार में मानसून में लॉन्ग की अपेक्षा नी लैंथ ड्रेसेज अधिक पसंद की जाती हैं। वहीं कुर्ती और वन पीस के अलावा सबसे ज्यादा क्रेज कफ्तान का रहता है। शॉर्ट और लॉन्ग दोनों तरह के कफ्तान पसंद किये जाते हैं। जिसमें फ्लोर लैंथ के कफ्तान के अलावा केप्री के साथ कैरी करने के लिए शॉर्ट कफ्तान भी हैं। शादी समारोह में भी वन पीस कफ्तान स्टाइल का ज्यादा क्रेज रहता है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस