आगरा, जागरण संवाददाता। ताजमहल में मंगलवार को नमाज पढ़ने की कोशिश करते केरल के तीन पर्यटकों को केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआइएसएफ) के जवानों ने पकड़ लिया। वह उद्यान में स्थित जिलाऊखाना के नजदीक नमाज पढ़ने पहुंच गए थे। पर्यटकों द्वारा जानकारी नहीं होने का हवाला दिए जाने पर उन्हें लिखित माफीनामा लिखवाकर छोड़ दिया गया।

ताजमहल में इन दिनों फ्री प्रवेश होने से पर्यटकों की भीड़ उमड़ रही है। मंगलवार शाम करीब चार बजे केरल से आए तीन पर्यटक शाही मस्जिद के नजदीक उद्यान में स्थित जिलाऊखाना तक पहुंच गए। जिलाऊखाना वह जगह है, जहां ताजमहल के निर्माण से पूर्व मुमताज महल के शव को बुरहानपुर से लाकर दफन किया गया था। पर्यटकों को नमाज पढ़ने की तैयारी करते हुए देखकर सीआइएसएफ के जवानों ने पकड़ लिया। वह उन्हें कंट्रोल रूम ले गए। पकड़े गए पर्यटक अनस, मंसूर और अवसद थे। तीनों पर्यटकों ने जानकारी नहीं होने का हवाला दिया। एएसआइ के नियमानुसार किसी भी स्मारक में प्रचलित गतिविधि से अन्य कोई गतिविधि नहीं हो सकती है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर ताजमहल में शुक्रवार को साप्ताहिक बंदी रहती है। दोपहर 12 से दो बजे तक स्मारक नमाज के लिए दो घंटे खोला जाता है।

ताजमहल के वरिष्ठ संरक्षण सहायक प्रिंस वाजपेयी ने बताया कि पर्यटक नमाज नहीं पढ़ पाए थे। वह स्मारक के नियमों से अनभिज्ञ थे। इसलिए उन्हें लिखित माफीनामा लिखवाकर छोड़ दिया गया। 

Edited By: Tanu Gupta