जागरण टीम, आगरा। सूबे के जलशक्ति मंत्री और भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह का कहना है कि फतेहपुर सीकरी नहर ब्रांच प्राचीन नहर प्रणाली है। इसकी मरम्मत व सिल्ट की सफाई कराई जाएगी। किसानों को खेतों के लिए भरपूर पानी मिलना चाहिए। औलेंडा के ग्रामीणों की मांग पर उन्होंने सिंचाई विभाग के अधीक्षण अभियंता को निर्देश दिए कि तीन किलोमीटर माइनर की खोदाई की डीपीआर बनाकर भेजें।

मेहंदीपुर बालाजी धाम के दर्शन कर शाम 5:30 बजे जल शक्ति मंत्री सपेरा माइनर का निरीक्षण करने पहुंचे थे। उन्होंने औलेंडा के बुजुर्ग किसान मोहर सिंह और बसेरी सिकंदर निवासी ठाकुर रूपेंद्र सिंह के पांव छूकर आशीर्वाद लिया। ग्रामीणों ने बताया कि धान की रोपाई के दौरान नहर का पानी नहीं मिलता है। गर्मियों में जल संकट बढ़ जाता है। मंत्री ने शीघ्र भरपूर सुविधाएं मुहैया कराने का आश्वासन दिया। किसान वीरेंद्र सिंह ने असंचित क्षेत्र के लिए सिंचाई के पानी की व्यवस्था कराने की मांग की। भाजपा के जिलाध्यक्ष गिर्राज सिंह कुशवाह, महामंत्री संजय चौहान, चौधरी रामेश्वर सिंह, ब्लाक प्रमुख प्रतिनिधि गुड्डू चाहर, रामेंद्र सिह, हेमेंद्र, चौधरी प्रताप सिंह, बंटी सिसोदिया, ध्रुव सिह, सोनू चौधरी, राजेंद्र सिंह मौजूद रहे। सरकार की योजनाएं बूथस्तर तक पहुंचाएं

जागरण टीम, आगरा। किरावली के अनार देवी गोयल विद्यालय मंदिर में शनिवार को भाजपा मंडल की बैठक संपन्न हुई। इसमें आगामी कार्यक्रमों को लेकर चर्चा की गई। जिला उपाध्यक्ष सत्यप्रकाश लोधी ने केंद्र व राज्य सरकार की योजनाओं को बूथ स्तर तक पहुंचाने की बात कही। इस दौरान जिला मंत्री सहदेव शर्मा, मंडल अध्यक्ष पवन इंदौलिया, दीवान सिंह, सुरेंद्र सिंह, डा. केपी सिंह, दीपक शर्मा, पिंकी, कृष्ण मोहन राजपूत, उत्तम लवानिया, रविंद्र शर्मा, अभिलाष चाहर मौजूद रहे। पुलिस पर भाजपा के मंडल अध्यक्ष से मारपीट का आरोप

जागरण टीम, आगरा। भाजपा किसान मोर्चा के मंडल अध्यक्ष ने पुलिस पर मारपीट का आरोप लगाया है। उन्होंने एसएसपी को शिकायती पत्र भेजकर कार्रवाई की मांग की। गांव शेखपुरा निवासी कृष्णकांत उर्फ भोला त्यागी मंडल अध्यक्ष हैं। उन्होंने पत्र में लिखा है कि उनका भाई मनोज असामाजिक तत्वों के चंगुल में है। इसकी शिकायत करने वह थाना एत्मादपुर गए थे। आरोप है कि वहां एक दारोगा ने उनसे मारपीट की और शांतिभंग में चालान कर दिया। थाना प्रभारी अरुण कुमार बालियान का कहना है कि दोनों भाइयों में जमीन का विवाद चल रहा है। मनोज ने कृष्णकांत के खिलाफ मारपीट की तहरीर दी थी। इस आधार पर कार्रवाई की गई। कोर्ट ले जाने से पूर्व मेडिकल भी कराया गया था। पुलिस पर मारपीट का आरोप गलत है।

Edited By: Jagran