जागरण संवाददाता, आगरा: पिता के पास पुत्र के लिए समय नहीं और बेटों पर माता-पता की चिंता करने की सोच व समय का अभाव है। क्या हमने ऐसे ही विकास की कल्पना की थी। हमें अपने ¨हदु प्रतीक चिह्नों को धारण करने में संकोच नहीं करना चाहिए। यह कहना था उज्जैन के रामकोटी तीर्थ के संत युवराज स्वामी माधव प्रपन्नाचार्य का। वह शनिवार को नेशनल हाईवे स्थित मधु रिजॉ‌र्ट्स में भारत विकास परिषद की राष्ट्रीय परिषद बैठक में बतौर मुख्य अतिथि शामिल होने आए थे।

उन्होंने बताया कि राष्ट्र के विकास के लिए वर्तमान पीढ़ी कुछ दूर दिखाई दे रही है। सभी अपनी आर्थिक उन्नति के लिए समर्पित हैं, लेकिन समाज के लिए समय का अभाव है। हमने आदर्श समाज की स्थापना के लिए उच्च बिंदु के जो मानक बनाए हैं, हम उन्हीं से फिसल रहे हैं। समाज के प्रति हमारा भी कुछ कर्तव्य बनता है। युवा पीढ़ी को राष्ट्र कार्य के लिए आकर्षित करना है। परिषद को उन्होंने भारत की संस्कृति एवं मातृभूमि की रक्षा करने वाला संगठन बताया। इससे पूर्व उन्होंने भारत विकास परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष सीए सीताराम पारीख के साथ स्वामी विवेकानंद के चित्र के सम्मुख दीप प्रज्जवलित कर बैठक का शुभारंभ किया। ब्रज प्रांत की त्रैमासिक पत्रिका उदय का विमोचन भी किया गया। स्वागत उद्बोधन ब्रज प्रांत अध्यक्ष जेपी गुप्ता ने किया। राष्ट्रीय उपाध्यक्ष डॉ. केशवदत्त गुप्ता ने आभार जताया। संचालन प्रांत महासचिव डॉ. जेके जुनेजा ने किया। इस दौरान आरपी शर्मा, जस्टिस बीएस कोकजे, एसके वाधवा, सुरेशचंद्र गुप्ता, बीएल गग्गर, सुरेश चंद्र जैन, बिजेंद्र सिंह वर्मा, सीए प्रवीन गर्ग, संपत खुर्दिय आदि मौजूद रहे।

पहले दिन हुए तीन सत्र

प्रथम दिन तीन सत्र हुए। उद्घाटन सत्र के बाद द्वितीय सत्र में देशभर से सभी पदाधिकारियों का क्षेत्रवार परिचय हुआ और सभी से प्रांतवार रिपोर्ट ली गई। विभिन्न प्रकल्पों के प्रभावी क्रियान्वन के लिए चर्चा हुई। अप्रैल माह में क्षेत्रीय स्तर पर कार्यशालाएं आयोजित करने की योजना बनी। संचालन राष्ट्रीय महामंत्री अजय दत्ता ने किया। तृतीय सत्र में राष्ट्रीय प्रकल्पों के प्रभारियों ने राष्ट्रीय समूह गान, भारत जानो प्रतियोगिता और महिला व बाल कल्याण के साथ समग्र ग्राम विकास योजना पर रिपोर्ट दी।

सांस्कृतिक कार्यक्रमों में दिखी ब्रज की झलक

शाम को रंगारंग कार्यक्रम हुए, जिसका उद्घाटन मेयर नवीन जैन ने की। वृंदावन की बांसुरी संस्था के कलाकारों ने राधाकृष्ण युगल रास, नृत्य, माखन मटकी, रसिया आदि की मनमोहक प्रस्तुतियां दीं। मीडिया चेयरमैन डॉ. अमित अग्रवाल ने बताया कि रविवार को अधिवेशन के दूसरे दिन परिषद की राष्ट्रीय पदाधिकारियों का चुनाव होगा। दोपहर एक बजे से अधिवेशन का समापन समारोह आहूत होगा। इस दौरान राजीव अग्रवाल, बसंत गुप्ता, डॉ. मृदुल जुनेजा, विनय सिंह, देवेश परिहार, योगेश गौतम, मुकेश गुप्ता आदि मौजूद रहे।

Posted By: Jagran