Move to Jagran APP

Ration News: अगर आपके पास राशन कार्ड है तो बेहद जरूरी है ये खबर, ससुराल में है बेटी और ले रहे लाभ तो होगा...

Ration News राशन कार्ड धारकों के लिए ई-केवाईसी जरूरी है। इसके लिए अब कोटेदारों को जिम्मेदारी दी गई है। लाभार्थियों को 25 तारीख तक ई-केवाईसी कराना अनिवार्य है। वहीं अब उन लड़कियों के नाम भी काटे जाएंगे जिनकी शादी हो चुकी है और वे ससुराल में हैं। लाभार्थी उनके नाम से राशन ले रहे हैं। राशन वितरण प्रणाली में पारदर्शिता लाने के लिए ये किया जा रहा है।

By vidhyaram narwar Edited By: Abhishek Saxena Published: Mon, 10 Jun 2024 10:00 AM (IST)Updated: Mon, 10 Jun 2024 10:00 AM (IST)
Ration News: लाभार्थियाें काे राशन कार्ड का कराना होगा ई-केवाईसी

जागरण संवाददाता, आगरा। राशनकार्ड धारकाें को राशन कार्ड का ई-केवाईसी कराना अनिवार्य कर दिया गया है। यह जिम्मेदारी कोटेदारों को दी गई है। साथ ही लाभार्थियाें से भी ई-केवाईसी कराए जाने में सहयोग प्रदान किए जाने का अनुरोध किया गया है। 25 जून तक यह कार्य कराया जाना सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए गए हैं।

ई-ईवाईसी से कई तरीके के लाभ होंगे। राशन कार्डधारक के मुखिया से सदस्यों का रिश्ता गलत दर्ज हो गया है तो उसे ठीक कराया जा सकेगा। इसमें मुखिया की सहमति जरूरी होगी। इसके साथ ही मृतक सदस्यों के नाम हटाए जा सकेंगे। जिन युवतियों की शादी हो चुकी है, और वे अपनी ससुराल में रह रही हैं, उनके नाम राशन कार्ड से हटाए जाने के निर्देश दिए गए हैं। यह सब हो जाने के बाद कोटेदार किसी प्रकार की धांधली नहीं कर सकेंगे और कई तरह की खामियां दूर हो सकेंगी। इसके साथ ही पारदर्शिता भी आएगी।

कोटेदारों को दिया है प्रशिक्षण

सभी कोटेदारों को 25 जून तक ई-केवाईसी कराए जाने की जिम्मेदारी सौंपी गई है। इसके लिए कोटेदारों को प्रशिक्षण भी दिया गया है। इसके साथ ही कोटेदारों को चेतावनी दी गई है कि इस दौरान अगर किसी प्रकार की गड़बड़ी की गई तो विभागीय कार्रवाई की जाएगी। इसके साथ ही खाद्यान के वितरण में किसी प्रकार की गड़बड़ी न की जाए।

Read Also: UP Politics: जानिए कौन हैं बीएल वर्मा जो यूपी की ये हॉट सीट गंवाने के बाद भी मोदी सरकार में लगातार दूसरी बार मंत्री बने

Read Also: Amroha Accident: आर्टिगा और बोलेरो की आमने-सामने भीषण भिड़ंत, गजरौला के चार यूट्यूबरों की मौत

ई-केवाईसी जून माह में करानी है। इसके लिए कोटेदारों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। ई-केवाईसी में किसी भी प्रकार की गड़बड़ी करने पर कार्रवाई की जाएगी। संजीव कुमार, जिला पूर्ति अधिकारी


This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.