आगरा, जागरण संवाददाता। ताजनगरी में जनवरी में कम और फरवरी में हवा अधिक खराब रही। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) की रिपोर्ट से यह स्थिति सामने आई है। फरवरी में वायु गुणवत्ता अधिक खराब रहने की मुख्य वजह शहर में चल रहे निर्माण कार्यों में मानकों का अनुपालन नहीं करना माना जा रहा है।

सीपीसीबी द्वारा आगरा में चार मानीटरिंग केंद्रों ताजमहल, एत्माद्दौला, रामबाग और नुनिहाई में वायु गुणवत्ता की मानीटरिंग की जाती है। सीपीसीबी की रिपोर्ट के अनुसार 2021 की जनवरी में वर्ष 2020 की अपेक्षा चारों मानीटरिंग स्टेशनों पर वायु प्रदूषण कम दर्ज किया गया, लेकिन फरवरी में पिछले वर्ष की अपेक्षा वायु प्रदूषण अधिक रहा। सभी केंद्रों पर अति सूक्ष्म कण (पीएम2.5), धूल कण (पीएम10) और श्वसनीय निलंबित कणों (एसपीएम) की मात्रा अधिक दर्ज की गई। शहर में चल रहे निर्माण कार्यों में धूल उड़ने से रोकने के उचित इंतजाम नहीं किए जाने, पानी का छिड़काव नहीं किए जाने से यह स्थिति हुई है।

सीपीसीबी के प्रभारी अधिकारी कमल कुमार ने बताया कि जनवरी की अपेक्षा फरवरी में प्रदूषक तत्वों की मात्रा मानीटरिंग स्टेशनों पर बढ़ी हुई दर्ज की गई है। पर्यावरणविद डा. शरद गुप्ता ने बताया कि सरकारी विभागों द्वारा सीवर लाइन व पाइपलाइन बिछाने के लिए सड़कों को खोदकर छोड़ दिया गया है। धूल उड़ने से रोकने के कोई इंतजाम नहीं किए गए हैं।

प्रदूषक तत्वों की स्थिति वर्ष 2021

माह, एसओटू, एनओटू, पीएम2.5, पीएम10, एसपीएम

ताजमहल

जनवरी, 5, 18, 188, 216, 291

फरवरी, 5, 23, 116, 179, 308

एत्माद्दाैला

जनवरी, 4, 27, 180, 238, 324

फरवरी, 6, 31, 100, 231, 378

रामबाग

जनवरी, 4, 30, 189, 220, 313

फरवरी, 6, 35, 123, 204, 367

नुनिहाई

जनवरी, 5, 31, 237, 277, 483

फरवरी, 5, 44, 172, 271, 514

प्रदूषक तत्वों की स्थिति वर्ष 2020

माह, एसओटू, एनओटू, पीएम2.5, पीएम10, एसपीएम

ताजमहल

जनवरी, 5, 26, 191, 267, 366

फरवरी, 5, 18, 122, 164, 285

एत्माद्दौला

जनवरी, 5, 20, 208, 302, 479

फरवरी, 5, 25, 122, 162, 319

रामबाग

जनवरी, 5, 24, 178, 228, 422

फरवरी, 4, 28, 120, 159, 246

नुनिहाई

जनवरी, 4, 27, -, 336, 670

फरवरी, 6, 28, -, 226, 466

फुल फार्म

एसओटू: सल्फर डाइ-आक्साइड

एनओटू: नाइट्रोजन डाइ-आक्साइड

पीएम2.5: अति सूक्ष्म कण

पीएम10: धूल कण

एसपीएम: श्वसनीय निलंबित कण

मानक

एसओटू: 20 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर

एनओटू: 30 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर

पीएम2.5: 40 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर

पीएम10: 60 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर