आगरा, जागरण संवाददाता। शनिवार को ताज रात्रि दर्शन होगा। आठ बैच में होने वाले रात्रि दर्शन की सभी 400 टिकटें बिकी हैं। शुक्रवार को भारतीय पुरातत्व सर्वेक्षण एएसआइ के माल रोड स्थित कार्यालय पर टिकट के लिए पर्यटकों की लाइन लगी रही। जिन्हें टिकट नहीं मिली, वो निराश नजर आए।
माह में पूर्णिमा पर पांच दिन (पूर्णिमा, उससे दो दिन पूर्व व दो दिन बाद) ताज रात्रि दर्शन होता है। रात 8:30 से 12:30 बजे तक आठ बैच में 50-50 के ग्रुप में पर्यटक ताज रात्रि दर्शन करते हैं। इसके टिकट एक दिन पूर्व एएसआइ के माल रोड स्थित कार्यालय से खरीदने पड़ते हैं। शनिवार को फूल मून में ताज देखने को शुक्रवार को सुबह 10 बजे से पूर्व ही पर्यटक एएसआइ के कार्यालय पहुंच गए थे। टिकट विंडो खुलते-खुलते लंबी लाइन लग गई। एक साथ बड़ी संख्या में टिकट लेने पहुंचे लोगों से लाइन में लगे पर्यटकों ने आपत्ति जताई।
बता दें कि पूर्णिमा पर संगमरमरी ताजमहल के दीदार के लिए हर सैलानी दीवाना रहता है। उत्‍साह में लोग रात में ताज के दीदार के लिए आते हैं। रात्रि दर्शन के लिए आठ बार में 50- 50 पर्यटकों को ताज के रात्रि दर्शन कराए जाते हैं। एक दिन पूर्व माल रोड स्थित एएसआइ कार्यालय से टिकट प्राप्‍त करनी होती है। पहचान पत्र के साथ टिकट दी जाती है।


 

Posted By: Tanu Gupta

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस