आगरा, जागरण संवाददाता। दोस्तों की सलाह पर खुशी का जाम दूल्हे को भारी पड़ गया। वह दो पैग लगा बरात लेकर दुल्हन के दरवाजे पर पहुंच गया। फेरों से पहले उसकी हालत बिगड़ गई। दूल्हे को चक्कर आने पर शादी समारोह में उसे दौरा पड़ने का हल्ला मच गया। इससे घरातियों में अफरातफरी मच गई। इस बीच दुल्हन को इसका पता चला तो उसने शादी से इन्कार कर दिया। आक्रोशित दुल्हन पक्ष ने लड़के वालों को मैरिज होम में रोक लिया। आधी रात तक पंचायत चली, लेकिन कोई नतीजा नहीं निकला। बरात को दुल्हन बिना ही लौटना पड़ा।

ताजगंज पुलिस को रविवार रात करीब पौन बजे फतेहाबाद मार्ग स्थित एक मैरिज होम में बरातियों को बंधक बनाने की सूचना मिली। पुलिस मौके पर पहुंची तो मामला कुछ और निकला। दूल्हा शाहगंज और दुल्हन पक्ष ताजगंज इलाके का रहने वाला था। दुल्हन पक्ष का कहना था कि फेरों से पहले दूल्हे को चक्कर आ गए थे। उसकी हालत बिगड़ गई और वह गिर गया। दुल्हन पक्ष ने आरोप लगाया कि दूल्हे को मिर्गी के दौरे पड़ते हैं।

वहीं, दूल्हा पक्ष का कहना था कि उसे दौरे नहीं पड़ते। उसका खुद का कारोबार है। पुलिस की बातचीत के दौरान सामने आया कि दूल्हे को उसके दोस्तों ने शादी की खुशी में दो पैग पिला दिए थे। दूल्हा शराब नहीं पीता था, जिससे उसकी हालत बिगड़ गई। दुल्हन पक्ष ने बरातियों को रोक लिया। दुल्हन पक्ष शादी में खर्च हुए 25 लाख रुपये की मांग कर रहा था।

वहीं, दूल्हा पक्ष 12 लाख रुपये देने को तैयार था। रात दो बजे तक दोनों पक्षों की पंचायत चली। मगर, कोई नतीजा नहीं निकला। पुलिस के हस्तक्षेप के बाद बरातियों को जाने दिया गया। इंस्पेक्टर ताजगंज ओमहरि वाजपेयी ने बताया कि दोनों पक्षों की ओर से कोई तहरीर नहीं दी गई है। शादी से इन्कार के बाद दोनों पक्षों ने राजीनामा करने के लिए दो दिन का समय मांगा है। परिचितों को किया बंधक बनाने का मैसेज

लड़की वालों ने प्रवेश द्वार पर अपने लोगों को खड़ा करके बरातियों को रोक लिया था। जिससे बरातियों को लगा कि उन्हें बंधक बना लिया गया है। उन्होंने अपने परिचितों को मैसेज करके इसकी जानकारी दी। परिचितों के माध्यम से ही पुलिस को मैरिज होम में बरात बंधक बनाने की सूचना मिली थी।

Edited By: Jagran