आगरा, जागरण संवाददाता। कमला नगर में मणप्पुरम गोल्ड लोन कंपनी की शाखा में डकैती डालने वाले गैंग के सरगना नरेंद्र उर्फ लाला पर एक लाख का इनाम है। पुलिस उसकी तलाश में कई राज्यों में दबिश दे चुकी है। मगर, अभी तक उसे गिरफ्तार नहीं कर सकी है। गैंग के दो सदस्य मुठभेड़ में ढेर हो चुके हैं, जबकि अन्य को पुलिस जेल भेज चुकी है। मगर, सरगना को गिरफ्तार करने में पुलिस फेल साबित हो रही है।

कमला नगर में मणप्पुरम गोल्ड लोन कंपनी की शाखा में 17 जुलाई को दिनदहाड़े डकैती पड़ी थी। फीरोजाबाद के हिस्ट्रीशीटर नरेंद्र उर्फ लाला ने साथियों के साथ मिलकर शाखा से 19 किलोग्राम से अधिक सोना और कैश लूट लिया था। पुलिस ने वारदात के कुछ घंटे बाद ही मनीष पांडेय और निर्दोष को मुठभेड़ में ढेर कर दिया था। सरगना लाला उर्फ नरेंद्र पर पुलिस ने एक लाख रुपये का इनाम घोषित कर रखा है। उसके रिश्तेदारों पर भी शिकंजा कसा। मगर, आरोपित अभी तक पुलिस के हाथ नहीं आया। चार माह से पुलिस उसकी तलाश में दिल्ली, हरियाणा, मध्य प्रदेश, राजस्थान, के अलावा फिरोजाबाद, मैनपुरी, गाजियाबाद व नोएडा समेत एक दर्जन से ज्यादा शहरों की खाक छान चुकी है। पुलिस को नरेंद्र उर्फ लाला के ओडिशा में होने की जानकारी मिली थी। पुलिस की टीम उसकी गिरफ्तारी को वहां पहुंची, लेकिन उससे पहले ही शातिर भाग गया। बताया जाता है शातिर वहां पर सोना बेचने गया था। जिसकी भनक पुलिस को लग गई। पुलिस टीम वहां पहुंची, लेकिन सफलता नहीं मिली। तब से अब तक लाला को कोई सुराग पुलिस को नहीं मिला है।

साढ़े चार किलोग्राम से अधिक सोना लेकर फरार है लाला

डकैती के बाद पुलिस ने मनीष व निर्दोष को मुठभेड़ में ढेर किया था। उनके पास से 7.5 किलो सोना और आभूषण बरामद किए थे। इसके बाद 21 जुलाई को डर के कारण आरोपी प्रभात ने थाने में समर्पण किया था। 23 जुलाई को पुलिस ने संतोष जाटव को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार कर लगभग एक किलो सोने के आभूषण बरामद किए थे। 27 जुलाई को अंशु सोलंकी और सहयोगी अंशु यादव उर्फ ध्रुव व संजय शर्मा को गिरफ्तार किया था। दो अगस्त को पुलिस ने इनामी रेनू पंडित को मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया था। तीन अगस्त को सुनीता और राजा को गिरफ्तार किया गया। चार अगस्त को अवकाश मिश्रा और अश्वनी मिश्रा को गिरफ्तार किया गया।10 अगस्त को देर रात देवेंद्र यादव, दीपू, मनोज और सचिन को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है। नरेंद्र उर्फ लाला साढ़े चार किलोग्राम से अधिक सोना लेकर फरार है।

Edited By: Prateek Gupta