आगरा, जागरण टीम। सोमवार सुबह आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे पर लखनऊ से आगरा आने वाली लाइन में खड़ी यूपीडा की गाडी में पीछे से आ रहे कैंटर ने टक्कर मार दी।जिसमें गाड़ी में सवार तीन कर्मचारी गंभीर रूप से घायल हो गए। उपचार के दौरान एक कर्मचारी की मौत हो गई हैं।

रोड गश्त पर थी गाड़ी

आगरा लखनऊ एक्सप्रेस वे पर यूपीडा की गाड़ी सोमवार सुबह रोड गश्त पर थी। लखनऊ से आगरा आने वाली लाइन में किलोमीटर 34.800 पर एक बस खराब हो जाने की वजह से खड़ी थी। सुबह करीब 5.15 बजे बस में खराबी की जानकारी करने के लिए यूपीडा की गाड़ी, पीली लाइन में खड़ी थी और एक कर्मचारी बस चालक से पूछताछ कर रहा था। तभी पीछे की ओर से आ रहे कैंटर ने यूपीडा की गाड़ी में टक्कर मार दी। जिससे गाड़ी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गई। गाड़ी मे बैठे दिनेश चंद्र पुत्र अमर सिंह निवासी बालाजी मंदिर के पास शिकोहाबाद, दिनेश कुमार और संतोष कुमार गंभीर रूप से घायल हो गए।

कैंटर पुलिस ने पकड़ा

सूचना मिलते ही यूपीडा के मुख्य सुरक्षा अधिकारी आर.एन.सिंह, प्रभारी निरीक्षक फतेहाबाद आलोक कुमार सिंह, चौकी इंचार्ज लुहारी मय पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंच गए। इन लोगोें ने बड़ी मुश्किल से गाड़ी के अंदर फंसे घायलों को बाहर निकाला और उपचार के लिए आगरा में हेरिटेज अस्पताल भिजवाया। जहां उपचार के दौरान दिनेश चंद्र की मौत हो गई। वहीं पुलिस ने कैंटर को अपने कब्जे में लिया है।

Edited By: Prateek Gupta

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट