Move to Jagran APP

Agra News: घर छोड़कर आई किशोरी को दोस्त ने देह व्यापार में ढकेला, चंगुल से भागकर पहुंची थाने, सात गिरफ्तार

Agra News घर छोड़कर आई किशोरी को दोस्त ने धोखा दे दिया और उसे देह व्यापार में ढकेल दिया। बताया जा रहा है कि टेढ़ी बगिया इलाके में किराए पर कमरा लेकर उसे रखा वहीं उसकी बोली लगाई गई। इस दौरान तीन लोगों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया।

By Jagran NewsEdited By: Nirmal PareekPublished: Wed, 01 Feb 2023 08:24 PM (IST)Updated: Wed, 01 Feb 2023 08:24 PM (IST)
घर छोड़कर आई किशोरी को दोस्त ने देह व्यापार में ढकेला

जागरण संवाददाता, आगरा: घर छोड़कर आई किशोरी को दोस्त ने धोखा दे दिया और उसे देह व्यापार में ढकेल दिया। बताया जा रहा है कि टेढ़ी बगिया इलाके में किराए पर कमरा लेकर उसे रखा, वहीं उसकी बोली लगाई गई। इस दौरान तीन लोगों ने उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया। इसके बाद वह चंगुल से भागकर न्यू आगरा क्षेत्र पहुंची जहां एक महिला की मदद से वह पुलिस के पास पहुंची। पुलिस ने उसे बाल कल्याण समिति के सामने प्रस्तुत किया। काउंसलिंग में उसने अपने साथ सामूहिक दुष्कर्म की जानकारी दी। पुलिस ने इस मामले में चार पुरुष और तीन महिलाओं समेत सात आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया। बुधवार को सभी को जेल भेज दिया।

loksabha election banner

ताजगंज क्षेत्र का मामला

पुलिस के अनुसार पीड़िता ताजगंज थाना क्षेत्र की रहने वाली है। वह पूर्व में कुबेरपुर स्थित एक मीट फैक्ट्री में अपनी मां के साथ पैकिंग का काम करती थी। इसी दौरान वहां काम करने वाले समीर से उसकी दोस्ती हो गई। वह 26 जनवरी को समीर के पास गई थी। उसने एक रात अपने पास रखा। अगले दिन उसे कुबेरपुर की रहने वाली फरजाना के सौंप दिया। महिला ने कहा कि वह उसकी नौकरी लगवा देगी। फरजाना अपनी परिचित आसमा के साथ उसे लेकर टेढ़ी बगिया पहुंची।

टेढ़ी बगिया में किराए पर कमरा लेकर रखी थी किशोरी

दोनों ने उसे मीना नाम की महिला को सौंप दिया। खंदौली की रहने वाली मीना देह व्यापार में लिप्त है। वह अलग-अलग जगहों पर किराए पर कमरे लेकर जाल में फंसी किशोरियों और युवतियों से देह व्यापार कराती है। मीना ने किशोरी को अच्छी नौकरी का लालच दिया। उसे टेढ़ी बगिया में किराए पर कमरा लेकर रखा गया। यहां पर मीना का साथी यामीन उसकी निगरानी में रखा गया।  

चंगुल से भागकर पहुंची थाने

किशोरी ने पुलिस को बताया कि 28 जनवरी की रात को उसकी बोली लगी। ग्राहक बनकर आए संजीव मित्तल निवासी कमला नगर, योगेश दीक्षित निवासी आवास विकास कालोनी सिकंदरा समेत तीन लोगों ने उससे सामूहिक दुष्कर्म किया। वह समझ गई कि गलत हाथों में पड़ गई है। वह जान बचाकर वहां से भाग निकली। न्यू आगरा थाना क्षेत्र में लावारिस हालत में उसे घूमता देख एक महिला ने पुलिस को सूचना दी।

पुलिस ने किशोरी को 30 जनवरी को बाल कल्याण समिति के समक्ष प्रस्तुत किया। यहां किशोरी ने काउंसलिंग में अपने साथ हुई घटना के बारे में बताया। समिति के निर्देश पर पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ अभियोग दर्ज किया। किशोरी का चिकित्सीय परीक्षण कराया। प्रभारी निरीक्षक ताजगंज बहादुर सिंह ने बताया कि मामले में सात आरोपितों को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया है।

इस तरह आरोपितों पर कसा शिकंजा  

पुलिस ने सबसे पहले मोहम्मद समीर निवासी गालिब नगर एत्मादपुर को पकडा। उससे पूछताछ में फरजाना निवासी रसूलपुर फिरोजाबाद और आसमा छलेसर का नाम पता चला। दोनों को पकड़ा तो पता चला कि उसे मीना को सौंप आई थीं। पुलिस मीना निवासी खंदौली  के घर पहुंची। उसे और यामीन निवासी इस्लाम नगर को पकड़ लिया। उनसे पूछताछ के बाद सामूहिक दुष्कर्म करने वालों के नाम पता चले। किशोरी ने बताया कि सामने आने पर वह आरोपितों को पहचान लेगी। जिसके बाद पुलिस ने संजीव मित्तल और योगेश दीक्षित को पकड़ा। दुष्कर्म का तीसरा आरोपित फरार है।  

बाल कल्याण समिति की तत्परता से हुई कार्रवाई

किशोरी से देह व्यापार कराने और सामूहिक दुष्कर्म के मामले में कार्रवाई बाल कल्याण समिति की तत्परता से हुई। किशोरी को समिति के सामने प्रस्तुत किया गया था। उस समय वह बुरी तरह से घबराई हुई थी। समिति ने पुलिस से जानकारी की।पता चला कि किशोरी के पिता ने उसकी गुमशुदगी दर्ज करा रखी थी। काउंसलिंग में किशोरी ने अपने साथ हुई घटना बताई। समिति की अध्यक्ष डा. मोनिका सिंह ने ताजगंज पुलिस को अभियोग दर्ज करा आरोपितों के खिलाफ कार्रवाई के निर्देश दिए।


Jagran.com अब whatsapp चैनल पर भी उपलब्ध है। आज ही फॉलो करें और पाएं महत्वपूर्ण खबरेंWhatsApp चैनल से जुड़ें
This website uses cookies or similar technologies to enhance your browsing experience and provide personalized recommendations. By continuing to use our website, you agree to our Privacy Policy and Cookie Policy.