आगरा, जागरण संवाददाता। उप्र माध्यमिक शिक्षा परिषद (यूपी बोर्ड) की सत्र 2021 की हाईस्कूल और इंटरमीडिएट परीक्षा में शामिल होने वाले विद्याíथयों के प्रपत्र मंगलवार से शिक्षा विभाग में जमा होंगे। 10 बाहरी विद्याíथयों की अनुमति और उनके प्रमाण पत्रों को भी जाच के बाद उनको भी जमा किया जाएगा। इसकी जिम्मेदारी विभाग ने तीन सदस्यीय कमेटी को सौंपी है।

कमेटी में राजकीय हाईस्कूल औलेंडा की प्रधानाध्यापक ममता शर्मा, राजकीय हाईस्कूल चौमा शाहपुर की प्रधानाध्यापक रागिनी शर्मा और पं. दीनदयाल उपाध्याय राजकीय माध्यमिक इंटर कालेज, साधन के प्रधानाचार्य राजकुमार सारस्वत को शामिल किया गया है। यह तीनों मंगलवार से बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाले विद्याíथयों की फोटोयुक्त नामावली, ट्रेजरी चालान की मूल और आनलाइन अपलोड चालन की प्रति की जांच करेंगीं। इसके साथ ही 10 बाहरी विद्याíथयों के अनुमति पत्र और उनके मूल प्रमाण पत्रों की जाच करेंगी। 30 तक चलेगी जाच

ये प्रक्रिया 30 अक्टूबर तक चलेगी। 30 अक्टूबर को सुबह 10 बजे से शाम चार बजे तक प्रमाण-पत्र आदि जमा किए जाएंगे। इन्हें सभी राजकीय, सहायता प्राप्त व वित्तविहीन विद्यालयों के प्रधानाचार्य जमा कराएंगे।

बाहरी विद्यार्थियों पर शासन की सख्त नजर है। लिहाजा उनके कागजात जमा कराने के दौरान जाच के लिए नोडल अधिकारी लगाए गए हैं, जो सभी प्रपत्रों की गहनता से जाच करने के बाद ही जमा करेंगे, लापरवाही या अनियमितता पाने जाने पर उनकी स्वयं की जिम्मेदारी होगी।

रवींद्र सिंह, जिला विद्यालय निरीक्षक।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

budget2021