आगरा,जागरण संवाददाता। औषधि विभाग की टीम जयपुरिया और आगरा गैंग के अवैध गोदाम चिन्हित कर रही है। बोगस फर्म बनाकर आठ से 10 गोदाम बना दिए गए हैं। दवाओं का अवैध धंधा करने के लिए पाश कालोनी से लेकर देहात में करीब 400 गोदाम हैं। थोक दवा की दुकान और मेडिकल स्टोर संचालकों से गोदाम का ब्योरा मांगा गया है। इसके बाद अवैध गोदाम के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

औषधि विभाग और पुलिस की टीम ने 19 दिसंबर को जयपुरिया गैंग के सरगना पंकज गुप्ता के तेज नगर कमला नगर स्थित घर पर छापा मारा था। घर से बड़ी संख्या में नशीली दवाएं जब्त की गईं, इसके बाद लोहिया नगर में जयपुरिया गैंग के गोदाम पर छापा मारा गया, यह गोदाम एक घर में था और पुलिस ने बड़ी मात्रा में नशीली दवाएं जब्त कीं थीं। टीम ने सात ठिकानों पर छापे मारे, घर और गोदाम से अवैध दवाएं मिलीं थीं। ये सभी अवैध गोदाम थे। कमला नगर, बल्केश्वर,दयालबाग,सिकंदरा, रामाबाग, कालिदी विहार के साथ ही फव्वारा क्षेत्र के आस पास की कालोनी और बस्ती में अवैध गोदाम हैं। गैंग ने बड़ी संख्या में देहात में भी गोदाम बना रखे हैं। इस तरह करीब 400 अवैध गोदाम हैं। औषधि निरीक्षक नरेश मोहन दीपक ने बताया कि थोक दवा की दुकान और मेडिकल स्टोर का लाइसेंस लेते समय गोदाम का ब्योरा दिया जाता है। इसके अलावा अन्य जगह पर दवा का भंडारण नहीं किया जा सकता है। यह अवैध है, जयपुरिया गैंग के सदस्यों द्वारा किराए पर कमरा लेकर अवैध गोदाम बना रखे हैं, इसी तरह से आगरा गैंग के गोदाम हैं। इन्हें चिन्हित किया जा रहा है, थोक दवा कारोबारी और मेडिकल स्टोर संचालकों से गोदाम का ब्योरा मांगा गया है। इसके बाद अवैध गोदामों पर कार्रवाई की जाएगी। इसमें मकान मालिक की संलिप्तता पाई जाती है तो उसके खिलाफ भी कार्रवाई की जाएगी।

आगरा गैंग का भी पकड़ा गया था अवैध गोदाम

पंजाब पुलिस ने जुलाई में विक्की अरोरा के प्रोफेसर कालोनी स्थित अवैध गोदाम पर छापा मारा था, यहां से बड़ी मात्रा में दवाएं जब्त की गईं थी। घर पर भी छापा मारा गया, वहां से भी बड़ी मात्रा में दवाएं जब्त की गईं थीं। पिछले साल अगस्त में आजमगढ़ में कफ सीरप पकड़े गए थे, इन्हें सिकंदरा क्षेत्र के अवैध गोदाम से ट्रक में रखा गया था।

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप