आगरा, जागरण संवाददाता। सिकंदरा के शास्त्रीपुरम में काशीराम आवास योजना में महिला की हत्या का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार करके कोर्ट के आदेश पर जेल भेज दिया। पत्नी को अपने खिलाफ भड़काने में शक में दामाद ने ही सास का गला घोट दिया था। हत्या के 12 घंटे बाद खुद ही बड़ी साली के घर पहुंचकर इसकी जानकारी देकर भाग गया था।

शास्त्रीपुरम के काशीराम आवास योजना निवासी रेखा अग्रवाल (48 वर्ष) पत्नी राजकुमार अग्रवाल की बुधवार को हत्या कर दी गई थी उनका दुपट्टे से गला घोटा गया था। रेखा अग्रवाल की बेटियों हर्षिता और आभा ने हत्या का आरोप विक्की पर लगाया था। रेखा अग्रवाल की तीन बेटियां हैं। तीनों की शादी हो चुकी है। छोटी बेटी आभा अग्रवाल ने विक्की उर्फ विनय से पिछले वर्ष जनवरी में प्रेम विवाह किया था। आभा ने इस वर्ष बेटी को जन्म दिया। पति विक्की कोई काम नहीं करता है। वह रेखा के पास ही घर जमाई बनकर रहने लगा था। इसे लेकर सास ने उसे काम करने के लिए टोकना शुरू कर दिया। करीब एक महीने पहले उसे घर से निकाल दिया था। इससे वह गुस्से में था।

उनके घर पर आकर कई बार झगड़ा कर गया था। पति द्वारा आए दिन बवाल करने पर आभा दो दिन पहले मां के पास से अपनी बड़ी बहन के घर दयालबाग रहने चली गई थी। रेखा अग्रवाल घर पर अकेली रह रही थीं। बुधवार की शाम साढ़े सात बजे विक्की दयालबाग पहुंचा। उसने पत्नी आभा और साली हर्षिता को रेखा अग्रवाल की हत्या की जानकारी दी। आरोपित को पकड़ने का प्रयास किया तो वह भाग गया। मामले में मृतका के बड़े दामाद ऋषभ अग्रवाल ने विनय उर्फ विक्की के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था।

पुलिस के पूछताछ आरोपित ने बताया कि प्रेम विवाह के कुछ समय बाद ही पत्नी उससे बात-बात पर झगड़ा करके मायके चली जाती थी। उसे शक था कि रेखा अग्रवाल अपनी बेटी को उसके खिलाफ भड़काती हैं। उससे अलग करने का प्रयास कर रही हैं। इसीलिए हत्या कर दी। वह बुधवार की सुबह पांच बजे सास के घर पहुंचा। पीछे की दीवार से अंदर जीने में आकर वह चौथी मंजिल पर गया। दरवाजा खुला हुआ था। दुपट्टे से गला घोटने के बाद वह उसी रास्ते से भाग गया था।इंस्पेक्टर सिकंदरा कमलेश सिंह ने बताया कि आरोपित विक्की को गिरफ्तार करके गुरुवार को जेल भेज दिया।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021