आगरा, जागरण संवाददाता। आगरा किला के पास लैबकर्मी की हत्या मफलर से गला घोंटकर ही की गई थी। गले में मफलर का फंदा कसा होने से इसकी आशंका जताई जा रही थी। अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट से इसकी पुष्टि हो गई है। पुलिस को आसपास के इलाके में सर्च करने पर खाई से बैग और कपड़े मिल गए। युवक का पर्स अभी तक गायब है। इसकी पुलिस तलाश कर रही है।

शाहगंज के शिव नगर पुलिया निवासी 44 वर्षीय डब्बू सिंह ट्रांस यमुना कालोनी स्थित एक लैब में कार्य करते थे। गुरुवार रात को उनकी हत्या कर दी गई थी। शुक्रवार सुबह डब्बू का शव आगरा किला के पास आंबेडकर पार्क में पड़ा मिला था। गले में मफलर का फंदा कसा हुआ था। उनकी गला घोंटकर ही हत्या की गई थी। इंस्पेक्टर रकाबगंज दिनेश कुमार ने बताया कि डब्बू लैब से गुरुवार रात नौ बजे निकला था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में करीब रात 10 बजे हत्या किए जाने की आशंका जताई है। साथ ही पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मृत्यु का कारण गला घोंटना बताया गया है। आशंका है कि डब्बू के लैब से निकलते ही उनको किला के पास आंबेडकर पार्क में ले जाकर हत्या की गई है। सीसीटीवी कैमरों से पुलिस को कुछ हाथ नहीं आया है। डब्बू के मोबाइल की काल डिटेल में एक संदिग्ध नंबर मिला है। इसके बारे में पुलिस जानकारी कर रही है। 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप