आगरा, जागरण संवाददाता। ताजनगरी में शुक्रवार को वायु गुणवत्ता एक बार फिर बहुत खराब स्थिति में पहुंच गई। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) की रिपोर्ट के अनुसार एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआइ) 318 रहा, जो गुरुवार के एक्यूआइ 177 से अधिक था। हवा में सात गुना से अधिक अति सूक्ष्म कण घुले रहे। आगरा देश के प्रदूषित शहरों में दसवें और प्रदेश में पांचवें स्थान पर रहा।

सीपीसीबी द्वारा प्रतिदिन शाम को संजय प्लेस स्थित आटोमेटिक मानीटरिंग स्टेशन पर एकत्र आंकड़ों के आधार पर आगरा में वायु गुणवत्ता की स्थिति पर रिपोर्ट जारी की जाती है। सीपीसीबी द्वारा निर्धारित गाइडलाइन के अनुसार वायु गुणवत्ता एक्यूआइ 0-50 तक अच्छी, 51-100 तक संतोषजनक, 101-200 तक मध्यम, 201-300 तक खराब, 301-400 तक बहुत खराब, 401-500 तक खतरनाक रहती है। शुक्रवार को आगरा की हवा में घुले अति सूक्ष्म कणों की अधिकतम मात्रा मानक 60 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर के सात गुना से अधिक रही।

यह शहर रहे प्रदूषित

क्रम, शहर, एक्यूआइ

1. फरीदाबाद, 376

2. गाजियाबाद, 371

3. दिल्ली, 364

4. नोएडा, 361

5. चरखी दादरी, 337

6. भिवाड़ी, 325

7. हिसार, कानपुर, नवी मुंबई, 324

8. ग्रेटर नोएडा, 322

9. यमुनानगर, 320

10. आगरा, 318

प्रदूषक तत्वों की स्थिति

शुक्रवार

प्रदूषक तत्व, न्यूनतम, अधिकतम, औसत

नाइट्रोजन डाइ-आक्साइड, 18, 84, 43

ओजोन, 2, 19, 12

अति सूक्ष्म कण, 76, 432, 318

गुरुवार

प्रदूषक तत्व, न्यूनतम, अधिकतम, औसत

नाइट्रोजन डाइ-आक्साइड, 14, 66, 27

ओजोन, 7, 19, 10

अति सूक्ष्म कण, 73, 295, 177

 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप