आगरा, जागरण संवाददाता। नेशनल हाईवे-19 के चौड़ीकरण का कार्य जनवरी 2022 तक पूरा होगा। वर्तमान में 90 फीसद कार्य पूरा हुआ है। यानी दस फीसद कार्य को पूरा करने में एक साल का समय लगेगा। एक माह के भीतर सिकंदरा सब्जी मंडी अंडरपास की लेन चालू होगी। वहीं गुरुवार से रुनकता से वाटरवक्र्स तक बंद पड़ी स्ट्रीट लाइट की मरम्मत शुरू हो गई है। तीस खंभों पर नई लाइट लगाई गई हैं। यह कार्य तीन दिनों के भीतर पूरा होगा।

दिल्ली-आगरा नेशनल हाईवे को अक्टूबर 2012 से छह लेन करने का कार्य शुरू हुआ था। अब तक छह बार प्रोजेक्ट की अंतिम तारीख बढ़ चुकी है। भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआइ) मथुरा खंड ने सातवीं बार नई तारीख घोषित की है।

धूल उड़ी तो एनएचएआइ अफसर होंगे जिम्मेदार

डीएम प्रभु एन सिंह का कहना है कि नेशनल हाईवे पर धूल उडऩे पर एनएचएआइ मथुरा और आगरा खंड के अफसर जिम्मेदार होंगे। उप्र प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को जांच के आदेश दिए गए हैं। वहीं हाईवे पर संरक्षा और सुरक्षा पर विशेष ध्यान देने के लिए कहा गया है।

डीएम ने यह जारी किए दिशा-निर्देश

- नेशनल हाईवे की सफाई ठीक से की जाए।

- हाईवे पर जो भी अवैध कट हैं, उन्हें तत्काल बंद कराया जाए।

- नाली और नालों की सफाई ठीक तरीके से की जाए।

- हाईवे पर संरक्षा के इंतजाम किए जाएं।

- हाईवे के किनारे अतिक्रमण को जल्द हटाया जाए।

- बंद पड़ी स्ट्रीट लाइट को बदला जाए।

- जिन खंभों पर लाइट नहीं लगी है, वहां नई लाइट लगाई जाएं।

- निर्धारित स्थलों पर साइनेज लगाए जाएं।

- जनवरी 2022 तक हाईवे के छह लेन का कार्य पूरा हो जाएगा। एक माह के भीतर सिकंदरा सब्जी मंडी अंडरपास की लेन चालू हो जाएगी।

मनोज बंसल, परियोजना निदेशक एनएचएआइ मथुरा खंड 

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप