आगरा, जागरण संवाददाता। एत्मादपुर में इनर रिंग रोड पर गुरुवार की सुबह चालक की झपकी आने पर अनियंत्रित हुई कार डिवाइडर से टकरा गई। जबरदस्त टक्कर के चलते चालक और उसमें सवार दो सहेलियों की मौत हो गई। जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों सहेलियां परिवार के साथ कानपुर से केदारनाथ दर्शन करने जा रही थीं।

घटना सुबह गुरुवार की सुबह करीब सात बजे की है। एसपी ग्रामीण रवि कुमार ने बताया कानपुर में थाना कल्याणपुर के महाबलीपुरम निवासी विजय श्रीवास्तव एक इंजीनियरिंग कालेज में एकाउंटेंट हैं। वह अपनी बेटी विजेता (20 वर्ष) समेत परिवार और परिचितों के साथ केदारनाथ दर्शन करने जा रहे थे। विजय श्रीवास्तव ने बताया एक कार में वह पत्नी सविता, मां रामदुलारी और बेटी काजल के साथ थे। दूसरी गाड़ी सफारी में बेटी विजेता उसकी सहेली साक्षी तिवारी (20 वर्ष) पुत्री राजेश तिवारी निवासी गंगा गंज कालोनी थाना पनकी कानपुर, शिवम सिंह पुत्र प्रत्युंजय प्रताप सिंह निवासी गांव उडली थाना सोनिकपुर जिला जौनपुर, प्रशांत श्रीवास्तव पुत्र पीके श्रीवास्तव निवासी त्रिवेणी नगर निराला नगर लखनऊ थे। शिवम और प्रशांत आपस में मित्र होने के साथ ही विजेता और साक्षी के भी दोस्त हैं।

विजेता और साक्षी की गाड़ी को निशित खरे पुत्र अशोक खरे निवासी जानकीपुरम एक्सटेंशन थाना जानकीपुरम लखनऊ चला रहा था। विजय श्रीवास्तव ने बताया उनकी गाड़ी विजेता और साक्षी की सफारी से आगे चल रही थी। एत्मादपुर में इनर रिंग रोड पर चालक निशित खरे को झपकी आ गई। इससे सफारी अनियंत्रित होकर डिवाइडर से टकरा गई। जबरदस्त टक्कर के चलते सफारी कई कलाबाजी खाती हुई पलट गई। उसका अगला हिस्सा पूरी तरह से क्षतिग्रस्त हो गया। इसमें चालक निशित की घटनास्थल पर मौत हो गई। एसपी ग्रामीण रवि कुमार ने बताया गंभीर घायल विजेता और साक्षी को एसएन इमरजेंसी में भर्ती कराया गया। यहां इलाज के दौरान दोनों सहेलियों ने भी दम तोड़ दिया। सफारी में सवार अन्य घायलों में शिवम और प्रशांत को ट्रांस यमुना कॉलोनी स्थित एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। उनकी हालत अब खतरे से बाहर है।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस