आगरा (जागरण संवाददाता)। छेड़छाड़ से परेशान छात्रा ने आत्मघाती कदम उठा लिया। आरोपी के परिजनों से शिकायत की, लेकिन उसकी हरकतें जारी रहीं। शनिवार सुबह वह कमरा बंद कर फंदे से लटक गई। जब तक परिजनों ने कमरे का दरवाजा तोड़कर उसे नीचे उतारा, उसकी मौत हो चुकी थी।

मलपुरा के मिढ़ाकुर निवासी 16 वर्षीय छात्रा 12वीं में पढ़ती थी। परिजनों का आरोप है कि पड़ोस में रहने वाला शानू उससे छेड़छाड़ करता था। आठ-दस दिन से वह छात्रा को बहुत परेशान कर रहा था। कभी रास्ते में रोक लेता, तो कभी छत से चढ़कर उसकी छत पर आ जाता। शुक्रवार रात छेड़छाड़ करने पर छात्रा के परिजनों ने आरोपी के परिजनों से शिकायत की। इसके बाद भी शनिवार को सुबह आरोपी ने छात्रा को परेशान किया।

बदनामी के डर से छात्रा के परिजनों ने इसकी पुलिस से शिकायत नहीं की। परिजन घर से बाहर थे, तभी छात्रा ने कमरा बंद कर पंखे से फंदा लटकाया और उस पर झूल गई। परिजनों ने दरवाजा तोड़कर उसका शव फंदे से नीचे उतारा, तब तक उसकी मौत हो चुकी थी। इसके बाद उन्होंने आरोपी युवक के खिलाफ थाने में तहरीर दे दी। एसओ मलपुरा अनिल कुमार यादव ने बताया कि आरोपी शानू, उसके पिता सम्मो, मां बेबी और बहन के खिलाफ आत्महत्या को दुष्प्रेरित करने की धारा में मुकदमा दर्ज कर लिया है। जांच के बाद कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ें: पिथौरागढ़ में महिला ने फांसी लगाकर की आत्महत्या

ताला लगाकर फरार हुए आरोपी के परिजन: छात्रा के घर के सामने ही आरोपी का घर है। घटना के बाद से ही परिवार के सभी सदस्य फरार हैं। पुलिस ने संभावित स्थानों पर उनकी तलाश की, लेकिन कोई हाथ नहीं लगा।
एसपी और सीओ पहुंचे पीड़िता के घर: घटना के बाद पुलिस अधिकारियों में खलबली मच गई। डीजीपी जावीद अहमद शहर में हैं, इसलिए शनिवार शाम को एसपी पश्चिम मंशाराम गौतम और सीओ अछनेरा आरके पाराशर छात्रा के घर पहुंच गए। उन्होंने परिजनों से घटना की जानकारी ली और कार्रवाई का आश्वासन दिया। 

यह भी पढ़ें: अवसाद कर रहा आत्महत्या को मजबूर

Posted By: amal chowdhury

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस