Move to Jagran APP

छोड़ी ट्रेन, बेटिकट यात्रियों ने खेतों में लगाई दौड़

By Edited By: Mon, 30 Jun 2014 09:33 PM (IST)

जागरण संवाददाता, आगरा : ट्रेनों में बेटिकट यात्रियों की धरपकड़ के लिए रुनकता स्टेशन पर चेकिंग अभियान चलाया गया। स्टेशन पर अप व डाउन लाइन की 14 ट्रेनों को रुकवा कर एसी और स्लीपर कोचों में रेलवे मजिस्ट्रेट की टीम ने जांच की। जेल जाने के डर से यात्री ट्रेन के कोचों से उतर भागे और खेतों में दौड़ लगा दी। करीब डेढ़ दर्जन ऐसे यात्रियों को सिपाहियों ने पकड़ा।

लंबी दूरी की ट्रेनों के एसी और स्लीपर कोच में हर दिन बड़ी संख्या में यात्री सफर करते हैं। पिछले दिनों इसकी शिकायत रेलवे मजिस्ट्रेट विजेश कुमार सिंह से की गई। सोमवार को रेलवे मजिस्ट्रेट की अगुवाई में आरपीएफ व जीआरपी रुनकता स्टेशन पहुंच गई। टीम ने स्टेशन को घेर लिया और फिर अप व डाउन लाइन की ट्रेनों को रुकवाने का काम शुरू हो गया। ट्रेन रुकने के बाद यात्रियों को इसकी भनक लगी, बेटिकट यात्रियों में खलबली मच गई। नई दिल्ली इंटरसिटी, छत्तीसगढ़, पंजाब मेल, ताज एक्सप्रेस ट्रेनों में सवार करीब डेढ़ दर्जन यात्री ट्रेन से उतर गए और फिर खेतों की ओर दौड़ लगा दी। यात्रियों को सिपाहियों ने खेतों से पकड़ा और फिर रेलवे मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया गया। जहां जुर्माना के बाद ऐसे यात्रियों को छोड़ दिया गया। रेलवे मजिस्ट्रेट का कहना है कि बेटिकट यात्रियों में दस सिपाही भी शामिल हैं। 166 बेटिकट यात्रियों से 65 हजार रुपये का जुर्माना वसूला गया है।