विंबलडन, एपी। शीर्ष वरीय नोवाक जोकोविक ने चार सेट तक चले कड़े मुकाबले में गैरवरीय नीदरलैंड्स के टिम वैन रिथोवन को हराकर वर्ष के तीसरे ग्रैंडस्लैम विंबलडन टेनिस टूर्नामेंट के क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया।

सर्बिया के दुनिया के पूर्व नंबर एक खिलाड़ी जोकोविक ने रिथोवन को 6-2, 4-6, 6-1, 6-2 से हराकर बाहर का रास्ता दिखाया। जोकोविक ने 13वीं बार विंबलडन के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई है। जोकोविक की विंबलडन के ग्रास कोर्ट पर यह लगातार 25वीं जीत है। दुनिया के 104वें नंबर के खिलाड़ी रिथोवन ने जोकोविक को कड़ी टक्कर दी और इस दौरान वह दूसरा सेट जीतने में भी सफल रहे। जोकोविच ने मैच में सिर्फ 19 बेजां भूलें की और 29 विनर लगाए। लगातार चौथे और कुल सातवें विंबलडन तथा 21वें ग्रैंडस्लैम खिताब के लिए चुनौती पेश कर रहे जोकोविक अंतिम आठ के मुकाबले में मंगलवार को 10वें वरीय इटली के जानिक सिनर से भिड़ेंगे।

जाबेउर ने भी बढ़ाए कदम : महिलाओं के वर्ग में ट्यूनीशिया की तीसरी वरीय ओन्स जाबेउर ने एलिसे मर्टेंस को सीधे सेटों में हराकर विंबलडन टेनिस टूर्नामेंट के महिला सिंगल्स वर्ग के क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। महिला वर्ग में बाकी बची खिलाडि़यों के बीच शीर्ष वरीय जाबेउर ने मर्टेस को 7-6 (9), 6-4 से हराकर लगातार दूसरी बार विंबलडन के अंतिम आठ में जगह बनाई। जाबेउर ने टाईब्रेकर में पांच सेट प्वाइंट बचाए। मौजूदा सत्र में ग्रास कोर्ट पर जाबेउर की यह लगातार नौंवीं जीत है और उन्होंने एक भी मैच नहीं गंवाया है। उन्होंने पिछले महीने बर्लिन ओपन का भी खिताब जीता था। ट्यूनीशिया की यह खिलाड़ी अगले दौर में चेक गणराज्य की मेरी बोजकोवा से भिड़ेंगी।

टेनिस में करियर बनाने पर अपने बेटे की मदद को तैयार जोकोविक

लंदन, रायटर। नोवाक जोकोविक ने कहा कि अगर उनका बेटा स्टीफन उनके नक्शेकदम पर चलने का फैसला करता है तो वह अपने बेटे को हरसंभव मदद देंगे। लेकिन सर्बियाई खिलाड़ी ने कहा कि वह चाहते हैं कि सात साल का उनका बेटा टेनिस में करियर बनाने को लेकर कोई दबाव महसूस नहीं करे। हाल के दिनों में इंटरनेट मीडिया पर 20 बार के ग्रैंडस्लैम विजेता की उनके बेटे के साथ ट्रेनिंग करते हुए तस्वीरें वायरल हुई थी।

जोकोविक ने कहा, मैं अपने बेटे के साथ खेलने के हर मौके को भुनाने की कोशिश करता हूं क्योंकि अब उसकी रूचि टेनिस में बढ़ गई है। वह अपने खेल को देखता है और उसका विश्लेषण करता है। अगर मेरा बेटा टेनिस में करियर बनाना चाहता है तो मैं उसका हर संभव तरीके से मदद करूंगा जिससे वह एक पेशेवर टेनिस खिलाड़ी बन सके।

Edited By: Sanjay Savern