मेलबर्न, एपी। दुनिया के नंबर-1 टेनिस खिलाड़ी सर्बिया के नोवाक जोकोविक के वकीलों ने आस्ट्रेलिया से उनके निर्वासन को चुनौती देते हुए अदालत में जानकारी दी है कि इस स्टार खिलाड़ी को पिछले महीने कोरोना हुआ था। आस्ट्रेलियन ब्राडकास्टिंग कारपोरेशन ने शनिवार को यह जानकारी दी। जोकोविक का बुधवार को मेलबर्न हवाई अड्डे पर पूर्ण टीकाकरण की अनिवार्यता पूरी नहीं करने पर वीजा रद कर दिया था। इसके अलावा सीमा अधिकारियों ने उन्हें आस्ट्रेलिया में प्रवेश देने से इन्कार कर दिया था।

दो स्वतंत्र चिकित्सा पैनल को जोकोविक द्वारा सौंपी गई सूचना के आधार पर उन्हें चिकित्सा छूट दी गई थी जिसे विक्टोरिया राज्य सरकार और आस्ट्रेलिया ओपन आयोजकों का समर्थन हासिल था। लेकिन इसके बाद बताया गया कि पिछले छह महीने में कोरोना पाजिटिव आए लोगों को मिलने वाली चिकित्सा छूट को सीमा अधिकारियों ने अवैध बताया। जोकोविक अभी मेलबर्न में आव्रजन होटल में हैं और सोमवार को फेडरल सर्किट अदालत में इस फैसले को चुनौती देने की तैयारी कर रहे हैं।

एबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, शनिवार को दायर किए गए दस्तावेज में जोकोविक के वकीलों ने कहा कि उन्होंने टेनिस आस्ट्रेलिया को गत एक जनवरी को कहा था कि 34 वर्षीय सर्बियाई खिलाड़ी को इस आधार पर कोरोना टीकाकरण से छूट दी गई है कि वह हाल ही में कोरोना से उबरे हैं। छूट का सर्टिफिकेट बताता है कि जोकोविक 16 दिसंबर को पाजिटिव पाए गए थे और 30 दिसंबर तक उन्हें बुखार नहीं था तथा पिछले 72 घंटे में कोई लक्षण भी नहीं थे।

अदालत के सबमिशन में कहा गया है कि जोकोविक को आस्ट्रेलिया के गृह विभाग से एक दस्तावेज मिला जिसमें कहा गया कि उनकी यात्रा के विवरण का आकलन किया गया, जिससे पता चलता है कि उन्होंने आस्ट्रेलिया पहुंचने पर क्वारंटाइन से मिलने वाली छूट की जरूरतों को पूरा किया है। फेडरल अदालत ने गृह मंत्रालय को रविवार को जवाब दाखिल करने के लिए कहा है। हालांकि, जोकोविक अगर आस्ट्रेलिया की अदालत में कानूनी लड़ाई हार जाते हैं तो उन्हें तीन साल तक बाहर भी किया जा सकता है।

आस्ट्रेलियन ओपन के आयोजकों ने सार्वजनिक तौर पर कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है। उन्होंने हालांकि आस्ट्रेलिया के समाचार पत्रों से कहा कि किसी भी खिलाड़ी ने टीकाकरण की जरूरत को लेकर गलत सूचना नहीं दी है। टूर्नामेंट निदेशक क्रेग टाइली इस उम्मीद के साथ जोकोविक का सहयोग कर रहे हैं कि यह गत चैंपियन खिलाड़ी 17 जनवरी से शुरू होने वाले टूर्नामेंट में खेल पाएगा।

Edited By: Sanjay Savern