पेरिस। वर्ल्ड नंबर-1 रोमानिया की सिमोना हालेप ने साल के दूसरे ग्रैंड स्लैम फ्रेंच ओपन के महिला एकल वर्ग के फाइनल में तीसरी बार अपनी जगह बनाई है। अब फाइनल में शनिवार को हालेप का सामना अमेरिका की स्लोन स्टीफंस से होगा जो पहली बार फ्रेंच ओपन के फाइनल में पहुंची हैं। 

सिमोना हालेप ने सेमीफाइनल मुकाबले में अपने पहले ग्रैंड स्लैम जीतने का सपना देख रहीं मुगुरुजा को निराश किया और उन्हें सीधे सेटों में 6-1, 6-4 से हरा दिया। हालेप ने इस जीत के साथ फ्रेंच ओपन के फाइनल में लगातार दूसरे वर्ष जगह बनाई। इससे पहले वो वर्ष 2014 और 2017 में फ्रेंच ओपन के फाइनल में खेल चुकी हैं। हालांकि दोनों ही बार उन्हें जीत नसीब नहीं हुई और उपविजेता बनकर ही संतोष करना पड़ा। 

सेमीफाइनल मुकाबले में मुगुरुजा पर जीत हासिल करने के बाद सिमोना हालेप ने कहा कि ये जीत मेरे लिए काफी अहम है और मैं बेहद खुश हूं। सेमीफाइनल में जीतना मेरे लिए इसलिए भी जरूरी थी कि मुझे ये विश्वास हो सके कि मैं बेहतरीन विरोधी खिलाड़ी के सामने भी जीत हासिल कर सकती हूं। मैंने क्ले कोर्ट पर अपने करियर के बेहतरीन मैचों में ये मैच खेला है। फ्रेंच ओपन मेरा पसंदीदा ग्रैंड स्लैम है और एक बार फिर से इसके फाइनल में पहुंचकर मैं काफी अच्छा महसूस कर रही हूं। 

सिमोना हालेप का अब फाइनल में सामना अमेरिका की स्लोन स्टीफंस से होगा। स्टीफंस ने पिछले वर्ष यूएस ओपन का खिताब जीता था और इस जीत के बाद उन्होंने काफी सुर्खियां बटोरी थीं। वहीं फ्रेंच ओपन के सेमीफाइनल में स्टीफंस ने अपनी ही देश की मेडिसन कीज को हराकर पहली बार इस ग्रैंड स्लैम के फाइनल में जगह बनाई है। सेमीफाइनल मुकाबले में स्टीफंस को कीज के खिलाफ जीत हासिल करने में ज्यादा परेशानी नहीं और दोनों के बीच चले एक घंटे 17 मिनट के मैच को उन्होंने सीधे सेटों में यानी 6-4, 6-4 से जीत हासिल की। 

फीफा विश्व कप की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

खेल की खबरों के लिए यहां क्लिक करें

Posted By: Sanjay Savern

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस