मेलबर्न, एपी। दिग्गज अमेरिकी महिला टेनिस खिलाड़ी सेरेना विलियम्स ने मंगलवार को ऑस्ट्रेलियन ओपन में एक घंटे 21 मिनट तक चले क्वार्टर फाइनल में दूसरी वरीयता प्राप्त सिमोना हालेप को 6-3, 6-3 से हराकर सेमीफाइनल में जगह पक्की की।

सेरेना 2017 में चैंपियन बनने के बाद पहली बार इस टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंची हैं जहां उनका सामना नाओमी ओसाका से होगा। सेरेना रिकॉर्ड 24वें महिला सिंगल्स ग्रैंडस्लैम खिताब से इस टूर्नामेंट में दो जीत दूर हैं। हालेप पहले सेट में सेरेना की चुनौती का सामना नहीं कर सकीं जबकि दूसरे सेट में वह एक समय 3-1 से आगे चल रही थीं। सेरेना ने इसके बाद अपने अनुभव का फायदा उठाते हुए लगातार पांच गेम जीतकर मैच अपने नाम कर लिया। सेरेना ने मुकाबले में चार ऐस लगाए जबकि हालेप एक भी ऐस नहीं लगा सकीं। 39 वर्षीय सेरेना के करियर का यह 40वां ग्रैंडस्लैम सेमीफाइनल मुकाबला होगा।

मैच के बाद सेरेना ने कहा, 'मुझे लगता है कि टूर्नामेंट में अभी तक यह मेरा सर्वश्रेष्ठ मैच रहा है। मैं जानती थी कि मेरा मैच विश्व की दूसरे नंबर की खिलाड़ी से होना है इसलिए मुझे सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने की जरूरत थी और मैंने ऐसा ही किया। मैं बहुत खुश हूं।'

ओसाका की आसान जीत : ओसाका ने यहां सीधे सेटों में जीत दर्ज करके सेमीफाइनल में प्रवेश किया। ओसाका ने 35 वर्षीय सीह सु वेई को एक घंटे छह मिनट तक चले मुकाबले में 6-2, 6-2 से हराकर अपनी लगातार 19वीं जीत दर्ज की। तीसरी वरीयता प्राप्त ओसाका ने सीह के खिलाफ तेज सर्विस की। उन्होंने सात ऐस लगाए। ओसाका ने कहा, 'सेमीफाइनल में सेरेना होंगी और मुझे अच्छे मुकाबले की उम्मीद है। मुझे कोर्ट के दूसरी तरफ उन्हें देखकर डर लगता है।' दोनों खिलाड़ी हार्ट कोर्ट पर चौथी बार आमने-सामने होंगी और अभी तक ओसाका 2-1 से आगे हैं। हालांकि उन दोनों के बीच सबसे यादगार मैच 2018 यूएस ओपन का फाइनल मैच था जब ओसाका ने अमेरिकी खिलाड़ी को शिकस्त दी थी।

कारात्सेव ने सेमीफाइनल में पहुंचकर रचा इतिहास

मेलबर्न। पहली बार ग्रैंडस्लैम के मुख्य ड्रॉ में जगह बनाने वाले रूस के टेनिस खिलाड़ी असलान कारात्सेव ने ऑस्ट्रेलियन ओपन के सेमीफाइनल में पहुंचकर इतिहास रच दिया।

उन्होंने मंगलवार को 18वीं वरीयता प्राप्त ग्रिगोर दिमित्रोव को 2-6, 6-4, 6-1, 6-2 से हराया। विश्व रैंकिंग में 114वें स्थान पर काबिज 27 साल के कारात्सेव पेशेवर युग में अपने पहले प्रयास में ग्रैंडस्लैम के सेमीफाइनल में पहुंचने वाले पहले खिलाड़ी बने। कारात्सेव ने कहा, 'यह एक अविश्वसनीय भावना है। जाहिर है कि यह पहली बार है। पहला मुख्य ड्रॉ, पहली बार सेमीफाइनल, यह शानदार है।' उन्होंने इस टूर्नामेंट में अब तक के सफर में ग्रैंडस्लैम में तीन बार के सेमीफाइनलिस्ट दिमित्रोव को हराने के साथ वरीयता प्राप्त दो अन्य खिलाडि़यों को बाहर का रास्ता दिखाया जिसमें आठवीं वरीयता प्राप्त डिएगो श्वाट्जमैन और 20वीं वरीयता प्राप्त फेलिक्स ऑगर-अलीसिमडिएगो शामिल हैं।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021