नई दिल्ली, आइएएनएस. ट्विटर (Twitter) अपने स्टैंड में बदलाव करने को मजबूर हुआ है। दरअसल मामला कुछ ऐसा है कि Twitter की तरफ से हाल ही में अपने एक फीचर में बदलाव किया गया था। लेकिन यह बदलाव ट्विटर यूजर्स को पसंद नहीं आया। इस फीचर्स को लेकर लाखों ट्विटर यूजर्स ने निराशा जाहिर की। ट्विटर यूजर्स की नाराजगी के बाद ट्विटर ने मजबूरी में फीचर बदलने का ऐलान किया है। 

वापस देना पड़ा फीचर 

ट्विटर ने अपने डिफॉल्ट रुप से क्रोनोलॉजिकल फीड (Chronological Feed) में बदलाव किया था। मतलब ट्विटर ने एक होम पेज ऐड किया था, जिसमें यूजर्स को टॉप ट्वीट दिखते थे। जबकि लेटेस्ट ट्वीट को देखने के लिए आपको राइट स्वाइप करना होता था। लेकिन यह बदलाव लोगों को बिल्कुल पसंद नहीं आया। Twitter यूजर्स का आरोप लगाया कि Twitter अपने यूजर्स को जबरदस्ती कुछ टॉप ट्वीट् देखने को मजबूर कर रहा है। ट्विटर यूजर्स का कहना है कि यूजर्स को ही तय करने दें कि आखिर कौन सा टॉप ट्वीट है और कौन सा नही? इसके लिए ट्विटर को डिफॉल्ट रूप से क्रोनोलॉजिकल फीड (Chronological Feed) फीचर पेश करना चाहिए, जिससे लोगों को लेटेस्ट ट्विटर टाइमलाइन पर मिल सकें। 

फीडबैक के आधार पर किया बदलाव 

ट्विटर ने अपने सपोर्ट अकाउंट पर एक ट्वीट में कहा कि यूजर्स से फीडबैक मिला है कि वो लेटेस्ट डिफाल्ट ट्वीट देखना चाहते हैं। ऐसे में हमने टाइमलाइन को वापस स्विच कर दिया है। ऐसे में ट्विटर यूजर्स को पहले की तरह पुराना होम टैब वापस मिल जाएगा। इसमें क्रोनोलॉजी के क्रम में टॉप पर लेटेस्ट ट्वीट्स शामिल रहेंगे। ट्विटर के प्रवक्ता शाओकी अमदो द वर्ज को दिए एक बयान में कहा गया है कि हमने यूजर्स के फीडबैक को गंभीरता से लिया है।

ट्विटर ने पहली बार 2016 में अपनी एल्गोरिथम टाइमलाइन को रोल आउट करना शुरू किया और यूजर्स को साल 2018 में एल्गोरिथम और रिवर्स क्रोनोलॉजी फीड के बीच टॉगल करने के लिए स्पार्कल आइकन पेश किया। इस बीच ट्विटर ने ऐलान किया है कि वह नई एक्सेसिबिलिटी सुविधाओं का टेस्ट कर रहा है।  

Edited By: Saurabh Verma

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट