नई दिल्ली। आधार कार्ड की अहमियत लगातार बढ़ रही है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि आधार नंबर बंद भी हो सकता है। दरअसल, लगातार तीन साल तक आधार नंबर का इस्तेमाल नहीं करने पर यह निष्क्रिय हो जाता है। अधिकारियों के अनुसार, यदि आपने तीन साल तक आधार का कहीं प्रयोग नहीं किया है, यानी बैंक, रसोई गैस कनेक्शन या पैन से इसे लिंक नहीं किया है, तो यह बंद हो सकता है। यूआईडीएआई की वेबसाइट पर यह जांचने की सुविधा दी गई है कि आधार निष्क्रिय हुआ है या नहीं। साथ ही उसे एक्टिवेट करने के विकल्प भी दिए गए हैं। एक नजर इसी से जुड़ी जरूरी बातों पर -

ऐसे पता करें आधार चालू है या बंद

- यूआईडीएआई की वेबसाइट https://uidai.gov.in/ पर जाएं। यहां आधार सर्विसेस में वेरिफाई आधार नंबर विकल्प है। इस पर क्लिक करें।

- यहां आपका आधार नंबर मांगा जाएगा। साथ ही कैप्चा कोड दर्ज करने को कहा जाएगा। इसके बाद वेरिफाई पर क्लिक करें।

- इसके बाद खुलने वाली विंडो में बता दिया जाएगा कि आधार एक्टिव है या नहीं। साथ ही आपके आधार की डिटेल्स भी वहां दिखाई देगी।

आधार बंद हो चुका है तो उठाए यह कदम

यदि आपका आधार बंद हो गया है तो जरूरी दस्तावेजों को साथ नजदीकी आधार सेंटर पर जाएं। ध्यान रहे यह काम ऑनलाइन या पोस्ट के जरिए नहीं होगा। सेंटर पर एक फॉर्म भरवाया जाएगा और बायोमैट्रिक्स से जुड़ी डिटेल्स को वेरिफाई किया जाएगा। इस अपडेट के लिए 25 रुपए शुल्क वसूला जाएगा। इस प्रक्रिया के दौरान आपको अपना सही-सही मोबाइल नंबर बताना होगा। कुछ दिन बाद आधार एक्टिव हो जाएगा।

Posted By: Sakshi Pandya

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस