नई दिल्ली, टेक डेस्क। टेलिकॉम कंपनी Airtel ने आज अमेरिकी चिपमेकर कंपनी Intel के साथ साझेदारी का ऐलान किया है। 5G के मामले में इसे Airtel का बड़ा दांव माना जा रहा है, क्योंकि Airtel से पहले Jio ने itel के साझेदारी का ऐलान किया था। Intel की इन्वेस्टमेंट इकाई Intel Capital ने साल 2020 में 1,894.50 करोड़ रुपये के निवेश के साथ Jio प्लेटफॉर्म के इक्विटी स्केट में 0.39 फीसदी हिस्सेदारी खरीदी थी। इसी तर्ज पर Airtel ने intel के साथ साझेदारी की है। 

Aitel ने किया 5G का लाइव डेमो 

ऐसे में Airtel 5G नेटवर्क के मामले में Jio से पीछे नहीं रहना चाहती है। Airtel की intel के साथ नई साझेदीरी में vRAN / O-RAN टेक्नोलॉजी की मदद से 5G नेटवर्क को विकसित करने में मदद मिलेगी। Airtel की intel के साथ साझेदरी से भारत में Airtel को 5G रोडमैप बनाने में मदद करेगी। Airtel भारत का पहला टेलिकॉम ऑपरेटर है, जिसने लाइन नेटवर्क पर 5G का लाइन डेमो दिया था और इस दौरान 1Gbps की दमदार स्पीड हासिल की थी। Airtel कई शहरों में 5G का ट्रॉयल कर रही है। Airtel कंपनी ने intel की थर्ड जनरेशन Xeon Scalable प्रोसेसर का सपोर्ट दिया गया है। Airtel की साझेदारी में interl के नए 3rd gen Xeon® स्केलेबल प्रोसेसर, FPGAs और eASICs, और ईथरनेट 800 सीरीज का इस्तेमाल किया जाएगा।

ट्रॉयल में मिली ये टॉप स्पीड

टेलिकॉम ऑपरेटर Bharti Airtel ने 5G ट्रायल के दौरान सबसे तेज 5G स्पीड हासिल करने का रिकॉर्ड अपने नाम किया है। Airtel को 5G ट्रॉयल के दौरान अब तक की सबसे तेज 1000 गीगाबिट्स प्रति सेकेंड की दमदार स्पीड हासिल हुई है।कंपनी ने मुंबई के लोवर परेल इलाके में स्थित Phoenix Mall में 5G ट्रायल का लाइव ट्रायल किया था। साथ ही कई अन्य शहरों में Airtel ने 5G का ट्रॉयल किया है।