नई दिल्ली, टेक डेस्क। डिजिटलाइजेशन के दौर में जहां एक तरफ ऑनलाइन ट्रांजैक्शन (Online Transcation) का चलन तेजी से बढ़ा है तो दूसरी तरफ बैंकिंग फ्रॉड के मामलों में भी इजाफा देखा गया है। जालसाज नई तरीकों के सहारे लोगों के अकाउंट खाली कर रहे हैं। ऐसे में अगर आप भी ऑनलाइन धोखाधड़ी के शिकार हुए हैं, तो परेशान होने की जरूरत नहीं है। हम आपको यहां एक हेल्पलाइन नंबर की जानकारी देंगे, जिसपर पर कॉल करके आप ऑनलाइन धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

हेल्पलाइन नंबर

देशभर में बैंकिंग फ्रॉड के मामलों में आई वृद्धि को ध्यान में रखकर दिल्ली पुलिस ने 155260 हेल्पलाइन नंबर रिलीज किया है। लोग इस नंबर पर कॉल करके ऑनलाइन धोखाधड़ी की शिकायत दर्ज करा सकते हैं। पुलिस के मुताबिक, इस हेल्पलाइन नंबर के जरिए बैंकिंग फ्रॉड के शिकार हुए व्यक्ति की पूरी मदद की जाएगी। इस नंबर पर कॉल करने से पैसे भी मिल सकते हैं।

इन राज्यों के लोग कर सकते हैं हेल्पलाइन नंबर का इस्तेमाल

  • दिल्ली
  • उत्तर प्रदेश
  • छत्तीसगढ़
  • मध्य प्रदेश
  • राजस्थान
  • तेलंगाना
  • उत्तराखंड

आपको बता दें कि इस हेल्पलाइन नंबर से SBI से लेकर ICICI बैंक तक तमाम प्राइवेट बैंक जुड़े हैं। इसके अलावा नंबर को MobiKwik, फ्लिपकार्ट और ऐमजॉन जैसे ई-वॉलेट प्लेटफॉर्म से जुड़ा गया है।

इस वेबसाइट पर दर्ज करा सकते हैं शिकायत

यदि हेल्पलाइन नंबर पर कॉल न लगे तो आप cybercrime.gov.in वेबसाइट पर जाकर शिकायत दर्ज करा सकते हैं।

ऑनलाइन ट्रांजैक्शन करते वक्त इन बातों का रखें ध्यान

  • ऑनलाइन शॉपिंग करने के बाद कभी भी अपने कार्ड की जानकारी प्लेटफॉर्म पर सेव न करें। इससे आपका बैंक अकाउंट खाली हो सकता है। ऐसे में हमेशा ध्यान रखें की पेमेंट करने के बाद अपने कार्ड की जानकारी डिलीट कर दें।
  • ऑनलाइन पेमेंट या ट्रांजैक्शन करने के लिए पब्लिक वाई-फाई और साइबर कैफे का इस्तेमाल न करें। ऐसा करने से आप ऑनलाइन धोखाधड़ी के शिकार हो सकते हैं। जब भी ऑनलाइन पेमेंट करें तो प्राइवेट वाई-फाई या अपने मोबाइल नेटवर्क का इस्तेमाल करें। इससे बैंक में जमा आपका पैसा पूरी तरह से सुरक्षित रहेगा।

Edited By: Ajay Verma