नई दिल्ली, टेक डेस्क। सोशल नेटवर्किंग साइट्स Twitter और Facebok ने कई सरकार समर्थित अकाउंट्स को ब्लॉक कर दिया है। अमेरिकी सरकारी संस्थानों के एक से ज्यादा सोशल मीडिया अकाउंट्स को अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के फेवर में किए गए मैनुप्लेटिव ऑपरेशन्स की वजह से ब्लॉक किए गए हैं। सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स का मानना है कि इन अकाउंट्स के माध्यम से सरकार समर्थित प्रोपोगेंडा फैलाए जा रहे हैं। Twitter ने बताया कि 88,000 ऐसे अकाउंट्स को ब्लॉक किया गया है जो साउदी स्टेट द्वारा प्रायोजित थे और इन्फॉर्मेंशन ऑपरेशन्स और नियमों का मैन्युप्लेशन कर रहे थे।

वहीं, Facebook ने वियतनाम और अमेरिकी नेटवर्क के अकाउंट्स ब्लॉक किए हैं जो प्रो-ट्रंप मैसेज के द्वारा अमेरिकी नागरिकों को भ्रमित कर रहे थे साथ ही साथ जॉर्जिया के घरेलू ऑडियंस को भी प्रभावित कर रहे थे। Facebook पहले से ही सरकार द्वारा प्रायोजित गलत जानकारियों और बोट्स द्वारा ऑपरेट किए जा रहे ऑटोमेटेड अकाउंट्स (जो कि प्लेटफॉर्म पर मैन्युप्लेटेड जानकारियों को पहुंचा रहे थे) को रोकने का लगातार प्रयास कर रहा है।

Twitter ने ज्यादातर अकाउंट्स जो ब्लॉक किए हैं वो अरेबिक थे और साउदी सरकार को फेवर कर रहे थे और उसके जियोपॉलिटिकल इंटरेस्ट को वर्ल्ड स्टेज पर ला रहे थे। इस बात की जानकारी Twitter ने अपने ब्लॉग पोस्ट के जरिए दी है। Twitter ने बताया कि उसने इनमें से 5,929 अकाउंट्स की डिटेल्स रिप्रजेंटेटिव सैंपल के तौर पर रिलीज की है। वहीं, 88,000 ऐसे संदेहास्पद अकाउंट्स ब्लॉक किए गए हैं। Twitter ने अपने इंवेस्टिगेशन में पाया कि साउदी आधारित सोशल मीडिया मार्केटिंग फर्म के इस तरह की एक्टिविटी को अंजाम दिया जा रहा है। इसकी वजह से इन अकाउंट को प्लेटफॉर्म से परमानेंटली ब्लॉक कर दिया गया है। इनमें से कुछ ट्वीट्स तो 2016 के हैं जो कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के कैंपेन को सपोर्ट करने के लिए किए गए हैं।

वहीं, Facebook ने कहा कि उसने Facebook और Instagram के कुल 600 अकाउंट्स को ब्लॉक किए हैं। ये सभी फर्जी अकाउंट्स हमारे सिस्टम द्वारा स्वत: रीमूव किए गए हैं। इन फर्जी अकाउंट्स कई पेज और ग्रुप्स को मैनेज कर रहे थे जिनसे बड़ी तादाद में पोस्ट शेयर किए जा रहे थे। 

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस