नई दिल्ली, हर्षित हर्ष। आज दुनिया भर में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस (Internation Women’s Day) मनाया जा रहा है। इसे सबसे पहले 1907 में 28 फरवरी को नेशनल वीमेन्स डे के तौर पर सोशलिस्ट पार्टी ऑफ अमेरिका ने मनाया था। 1910 में आयोजित इंटरनेशनल सोशलिस्ट वीमेन्स कांफ्रेंस के बाद साल 1911 में 19 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस का आयोजन किया गया था। इसमें अमेरिका के अलावा ऑस्ट्रिया, डेनमार्स, जर्मनी और स्वीट्जरलैंड में भी सेलिब्रेट किया गया। 1913 में रूस में फरवरी के आखिरी रविवार को नेशनल वीमेंस डे को मनाया गया। 1914 में पहली बार 8 मार्च को जर्मनी ने अंतर्राष्ट्रीयम महिला दिवस मनाया गया। इसी दिन जर्मनी में महिलाओं को वोट देने का अधिकार मिला था। 1914 से लेकर अब तक हर साल 8 मार्च को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के तौर पर मनाया जाता है।

टेक्नोलॉजी के इस युग में महिलाएं सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म्स पर भी एक्टिव रहती हैं। WhatsApp, Facebook, Twitter, Instagram, Snapchat, TikTok जैसे प्लेटफॉर्म्स को बड़ी संख्या में महिलाएं इस्तेमाल करती हैं। ऐसे में इन प्लेटफॉर्म्स को इस्तेमाल करने वाली महिलाओं को कुछ सावधानी बरतने की भी जरूरत हैं। जिनकी वजह से उनके निजी डाटा को सुरक्षित किया जा सकता है। महिलाएं ही नहीं, हर यूजर्स को इन प्लेटफॉर्म्स के बेसिक सिक्युरिटी फीचर्स को फॉलो करना चाहिए, ताकि सोशल मीडिया पर उनकी निजता (प्राइवेसी) बरकरार रहे।

Two Factor Authentication

WhatsApp, Twitter, Facebook, Instagram जैसे लोकप्रिय ऐप्स पर ये फीचर डाटा सुरक्षा के लिए दिया गया है। महिलाएं अपने ऐप्स या फिर वेबसाइट पर जाकर इन प्लेटफॉर्म्स पर Two Factor Authentication फीचर को इनेबल कर सकती हैं। इस फीचर के इनेबल करने के बाद उनके प्रोफाइल को हैक करना मुश्किल होगा। इन लोकप्रिय ऐप्स के सेटिंग्स में जाकर इस फीचर को इनेबल किया जा सकता है। इसके लिए यूजर्स को अपने मोबाइल नंबर या ई-मेल आईडी का इस्तेमाल करना होगा।

थर्ड पार्टी ऐप्स से रहें सावधान

Facebook इस्तेमाल करने वाले यूजर्स को खास तौर पर किसी भी तरह के थर्ड पार्टी ऐप्स को अपनी निजी जानकारियों का एक्सेस देने से बचना चाहिए। Facebook पर कई तरह के थर्ड पार्टी ऐप्स मौजूद होते हैं, जिन्हें यूजर्स जाने-अनजाने में अपनी निजी जानकारियों का एक्सेस दे देते हैं। इन ऐप्स को अपने प्रोफाइल से रीमूव करने के लिए यूजर्स को Facebook की सेटिंग्स में जाकर ऐप्स और वेबसाइट पर टैप या क्लिक करना होगा। इसके बाद सभी ऐप्स को सिलेक्ट करके उनके परमिशन को रीमूव किया जा सकता है।

प्रोफाइल प्राइवेसी

Facebook या अन्य सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर अपने प्रोफाइल की निजी जानकारियों जैसे कि मोबाइल नंबर, पता और ई-मेल आईडी को हाइड करके रखना चाहिए। ऐसा करने से यूजर्स की निजी जानकारियां सार्वजनिक नहीं हो सकेंगी।

ग्रुप प्राइवेसी

WhatsApp, Facebook Messanger पर कई चैट ग्रुप्स होते हैं जिनमें यूजर्स को जाने-अनजाने में जोड़ लिया जाता है। इन ऐप्स पर किसी ग्रुप में अगर आपको जाने-अनजाने में जोड़ लिया गया हो तो आप उन ग्रुप्स को लेफ्ट कर दें। WhatsApp यूजर्स ऐप की सेटिंग्स में जाकर, प्राइवेसी सेटिंग्स में जाएं और ग्रुप में जोड़ने के लिए केवल माई कॉन्टैक्ट को सिलेक्ट कर लें। ऐसा करने से आपको किसी भी ग्रुप में केवल आपके कॉन्टैक्ट के लोग ही जोड़ सकेंगे। 

फोटो प्राइवेसी

सोशल मीडिया प्लेटफॉर्मस पर फोटोज या वीडियो अपलोड करने से पहले भी इन बातों का ध्यान देना चाहिए की उन पोस्ट को पब्लिक रखना है या फिर केवल फ्रेंड्स के लिए रखना है। हर पोस्ट को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर पब्लिक नहीं रखना चाहिए, ताकि आपकी निजता बनी रहे।

Posted By: Harshit Harsh

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस