मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

नई दिल्ली। चीन की स्मार्टफोन निर्माता कंपनी कूलपैड ने कूल 1 डुअल हैंडसेट भारत में लॉन्च किया था। लुक और डिजाइन में यह फोन काफी अच्छा दिखने वाला फोन है। इस बार हमें मौका मिला है, इस फोन को परखने का और आज हम आपको बताएंगे की क्या यह फोन यूजर्स की उम्मीदों पर खरा उतर पाएगा? हमने इस फोन के साथ कुछ समय बिताया है। अगर आप इस फोन को खरीदने का मन बना रहे हैं तो उससे पहले आप इस रिपोर्ट को जरूर पढ़े। क्योंकि आज इस फोन के पांच बड़े प्वाइंट हम आपके लिए लेकर आये हैं।

1- इस फोन में 5.5 इंच फुल एचडी आईपीएस डिस्पले दिया गया है। लुक और डिजाइन में यह फोन काफी अच्छा है। फोन को हाथ में पकड़ने पर ग्रिप काफी अच्छी बनती है। गोल कलर में यह काफी आकर्षक लगता है।

2- अगर बात की जाए परफॉर्मेंस की तो इस फोन में 3जीबी/4जीबी रैम के साथ 1.8 गीगाहर्ट्ज ऑक्टा-कोर एमएसएम8976 प्रोसेसर दिया गया है। हैवी गेम खेलने पर यह फोन थोड़ा हीट हो जाता है। लेकिन जितना समय हमने इस फोन के साथ बिताया, उतने समय में इसमें हैंग होने की दिक्कत नहीं आई। इसका टच डिस्पले काफी स्मूद है और परफॉरमेंस ठीक रही।

3- फोटोग्राफी के लिए इसमें 13 मेगापिक्सल के दो रियर कैमरे दिए गए हैं। वहीं, 8 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा दिया गया है। इसका कैमरा इसका माइनस प्वाइंट कहा जा सकता है। दिन में रिजल्ट बेहतर रहे लेकिन कम रोशिनी में ली गयी फोटो बहुत ज्यादा इम्प्रेस नहीं कर पाई। इस सेगमेंट के दूसरे स्मार्टफोन्स के मुकाबले यह फोन कैमरा सेगमेंट में ज्यादा अच्छा परफॉर्म नहीं करता है।

4- अगर बैटरी की बात की जाए तो इसमें 4000 एमएएच की बैटरी दी गई है। इसकी बैटरी आधे घंटे में 50 फीसदी चार्ज हो जाती है। लेकिन हैवी गेम खेलने पर बैटरी जल्दी डिस्चार्ज भी हो जाती है। नार्मल यूज पर फोन की बैट्री एक दिन चल जाती है।

5- इस फोन की कीमत 13,999 रुपये है, जोकि थोड़ी ज्यादा लगी। कूल1 ड्यूल का मुकाबला रेडमी नोट 4 और हॉनर 6एक्स जैसे फोन से होगा।


Posted By: MMI Team

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप