नई दिल्ली, टेक डेस्क। प्रीमियम स्मार्टफोन निर्माता कंपनी Apple ने बीते दो दिनों में चीनी App Store से 4,500 गेम्स को हटा दिया है। Apple की तरफ से यह फैसला चीनी सरकार की नई इंटरनेट पॉलिसी के तहत दबाव में लिया गया है। चीन में पिछले हफ्ते में मात्र दो दिन में चीन के ऐप स्टोर से करीब 3000 से ज्यादा गेम्स को हटा दिया है। चीन सरकार की तरफ से ऐप्स स्टोर से ऐप को हटाने का बड़ा फैसला उस वक्त लिया गया, जब हाल ही में भारत ने 59 चीनी ऐप्स को बैन कर दिया गया है।

TechNode की रिपोर्ट के मुताबिक, नए रेग्यूलेशन के तहत चीन में Apple App Store पर किसी भी गेम को अपलोड करने से पहले चीनी रेग्यूलेटर की तरफ से गेम डेवलपर्स को अप्रूवल लेना अनिवार्य होगा। चीनी सरकार के नए रेग्यूलेशन को एक जुलाई से लागू कर दिया गया है। इसके बाद से ही Apple App Store से ऐप्स को तेजी से हटाने का सिलसिला शुरू हो गया है।

नए नियम से बढ़ेंगी गेम डेवलपर्स की मुसीबतें

बता दें कि चीनी सरकार की तरफ से पहले ही गेमिंग ऐप पर काफी निगरानी रखी जाती है। यही वजह रही कि चीन की सरकार ने बीते एक साल में मात्र 1500 गेम्स को इजाजत दी गई। चीन में गेमिंग ऐप को ऐप स्टोर पर अपलोड करने के लिए सरकार से अप्रूवल हासिल करने में 6 से 12 माह का लंबा वक्त लगता है। ऐसे में एक जुलाई से गेमिंग ऐप को लेकर लागू नया चीन इंटरनेट कंपनियों की मुसीबतों को पहले से ज्यादा से बढ़ा सकता है। वहीं जिन ऐप्स को ऐप्स स्टोर से हटा दिया गया है, उन्हें सरकार से अप्रूवल हासिल करने दोबारा अपलोड करने में काफी वक्त लगेगा। आंकड़ों के मुताबिक चीनी सरकार ने एक जुलाई 2020 को 1,571 ऐप्स को हटाया गया। वहीं 2 जुलाई को 1,805, 3 जुलाई को 1,276 ऐप्स को हटा दिया गया। एक अनुमान के मुताबिक चीन के नए रेग्यूलेशन से करीब 20 हजार ऐप्स पर असर पड़ेगा।

Sensor Tower की रिपोर्ट के मुताबिक चीन Apple App Store के लिए एक बड़ा बाजार है, जहां कंपनी को सालाना करीब 16.4 बिलियन डॉलर की सेल्स हासिल होती है, जबकि अमेरिका में यह आंकड़ा 15.4 बिलियन डॉलर का है। Apple मौजूदा वक्त में करीब 69 हजार गेम्स होस्ट करता है। मार्केट रिसर्च फर्म Newzoo के मुताबिक, iOS का चीन से हासिल रेवेन्यू में कुल हिस्सेदारी 53 फीसदी है, जो कि करीब 13 बिलियन डॉलर है।

Jagran HiTech #NayaBharat सीरीज के तहत इंडस्ट्री के लीडर्स और एक्सपर्ट्स ने क्या कहा है, ये जानने के लिए यहां क्लिक करें।

(Written By- Saurabh Verma)

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप