Diwali VastuTips of Colours: दीपावली पर साफ-सफाई का विशेष महत्व है। दीपावली के दिन लक्ष्मी पूजन का विधान है और मां लक्ष्मी उन्हीं घरों में वास करती हैं जहां स्वच्छता का वास होता है। इसलिए अधिकांश लोग दीपावली के पहले अपने घरों की साफ-सफाई करने साथ घरों में पेंटिग भी करवाते हैं। लेकिन क्या आपको पता है जिन रंगों के बीच आप रात-दिन रहते हैं उनका हमारे मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य पर सीधा असर पड़ता है। इसलिए हमें अपने कमरों का रंग उनकी प्रकृति और जरूरत के हिसाब से कराना चाहिए। आइए इस दीपावली अपने घर और कमरों की दीवारों को वास्तुशास्त्र के मुताबिक पेंट करवाएं। जिससे प्रसन्न हो कर मां लक्ष्मी हमारे घर पधारें और हमें जीवन में सकारत्मकता और खुशहाली का आशीर्वाद प्रदान करें....

1-वास्तुशास्त्र के अनुसार हमें घर के अन्दर हल्के शेड़्स के रंगों का प्रयोग करना चाहिए। ये रंग सात्विक रंग कहलाते हैं, इनसे आपको सुकून और मानसिक शांति मिलेगी। घर की बाहरी दीवरों पर गहरे रंग से पेंट करवाया जा सकता है।

2- बैठक या ड्राइंग रूम में हल्के हरे या नीले, आसमनी रंग का प्रयोग करना चाहिए। वास्तु में इन रंगों को कोमल रंग माना जाता है जो घर का माहौल खुशनुमा बनाए रखते हैं।

3- बेडरूम में हमें गुलाबी, नारंगी या लाल रंग के शेड़्स में पेंट करवाना चाहिए। ये रंग रोमांटिक रंगों की श्रेणी में आते हैं,बेड रूम में इन रंगों का इस्तमाल आपके वैवाहिक संबंध को और मधुर बनाते हैं।

4- बैंगनी रंग उत्साहवर्धक और अवसाद को समाप्त करने वाला माना जाता है। इस रंग से हमें अपने पूजा या योग और ध्यान-साधना के कमरे में करवाना चाहिए।

5- पीला रंग मस्तिष्क को संतुलित रखता है, इसलिए स्टडी रूम या लाईब्रेरी में पीले रंग का प्रयोग करना चाहिए।

6- किचेन को लाल रंग से पेंट करवाना वास्तु के मुताबिक सही माना जाता है। क्योकिं लाल रंग ऊष्ण और ऊर्जावान रंग माना जाता है। ऐसा करने से सकारात्मकता में वृद्धि होती है।

डिस्क्लेमर

''इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना में निहित सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्म ग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारी आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना के तहत ही लें। इसके अतिरिक्त इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।''

Edited By: Jeetesh Kumar