नई दिल्ली,  Grah For Money Loss: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, ग्रहों की स्थिति के हिसाब से व्यक्ति के जीवन में कई बड़े उतार चढ़ाव आते रहते हैं। कई बार आर्थिक स्थिति कमजोर होने के कारण कर्ज में डूब जाते हैं। धन संबंधी कई समस्याओं सामना करना पड़ता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, आर्थिक रूप से कमजोर होने के पीछे कुंडली में मौजूद ये तीन ग्रह है। इन तीन ग्रहों की स्थिति खराब होने से व्यक्ति को एक-एक पैसे के लिए भी मोहताज होना पड़ता है। जानिए इन ग्रहों के बारे में, साथ ही जानिए कुछ उपाय।

शनि ग्रह

ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, जब किसी जातक की कुंडली में शनि ग्रह बैठता है तो लंबे समय तक रहता है। इस कारण व्यक्ति की कुंडली में शनि दोष, साढ़े साती और ढैय्या लंबे समय तक रहती है। शनि ग्रह की दृष्टि होने से आर्थिक स्थिति कमजोर होना, नौकरी-बिजनेस में हानि होना, कानूनी मामलों में फंसना, विवाह में अड़चन आदि सामना करना पड़ता है। शनि के कुदृष्टि से बचने के लिए शनिवार के दिन दिन सरसों का तेल अर्पित करें इसके साथ ही सरसों के तेल का दीपक जलाएं। इसके साथ ही शनि के दोष को कम करने के लिए घोड़े की नाल से छल्ला बनवाकर बीच की अंगुली में पहन लें।

राहु ग्रह

ज्योतिष शास्त्र में राहु ग्रह को छाया ग्रह कहा जाता है। अगर किसी जातक की कुंडली में राहु शुभ ग्रहों के साथ बैठता है, तो वह लाभकारी साबित होता है। वहीं, अगर अशुभ ग्रहों के साथ बैठ जाता है, तो अशुभ फलों की प्राप्ति होती है। ऐसे में राहु के अशुभ प्रभाव होने के कारण व्यक्ति के स्वास्थ्य पर बुरा असर पड़ता है। इसके साथ ही आर्थिक नुकसान, कर्ज में डूब जाना जैसी समस्याएं शामिल है। राहु के अशुभ स्थिति से बचने के लिए नियमित रूप से 108 बार इस मंत्र का जाप करें- ऊँ रां राहवे नम:

मंगल ग्रह

ग्रहों की सेनापति मंगल ग्रह हा स्थिति खराब होने पर भी व्यक्ति के जीवन पर बुरा असर पड़ता है। कुंडली में जब मंगल छठवें, आठवें और दसवें भाव में आता है, तो धन हानि बढ़ जाती है। इसके साथ ही छठे भाव में होने के कारण कर्ज भी तेजी से बढ़ जाता है। मंगल ग्रह की स्थिति को सही करने के लिए मंगलवार के दिन भगवान हनुमान की पूजा करें। इसके साथ ही किसी ज्योतिषी की सलाह लेकर मूंगा रत्न धारण कर लें। इससे लाभ मिलेगा।

Pic Credit- Freepik

डिसक्लेमर

इस लेख में निहित किसी भी जानकारी/सामग्री/गणना की सटीकता या विश्वसनीयता की गारंटी नहीं है। विभिन्न माध्यमों/ज्योतिषियों/पंचांग/प्रवचनों/मान्यताओं/धर्मग्रंथों से संग्रहित कर ये जानकारियां आप तक पहुंचाई गई हैं। हमारा उद्देश्य महज सूचना पहुंचाना है, इसके उपयोगकर्ता इसे महज सूचना समझकर ही लें। इसके अतिरिक्त, इसके किसी भी उपयोग की जिम्मेदारी स्वयं उपयोगकर्ता की ही रहेगी।

Edited By: Shivani Singh